संसू, प्रतापगढ़ : जिले में यूपी बोर्ड परीक्षा में वेब कास्टिग के लिए जीआइसी में बनाए गए कंट्रोल रूम से अब तक 50 परीक्षा केंद्रों को जोड़ दिया गया है। अभी 149 केंद्रों को जोड़ने का कार्य शेष है। कंटोलरूम में 15 कंप्यूटर लगाए गए हैं। यहीं से पूरी परीक्षा की मॉनिटरिग की जाएगी। शासन में बैठे लोग भी वेबकास्टिग के जरिए सीधे परीक्षा केंद्रों की हकीकत देख सकेंगे। डीएम ने जीआइसी में खोले गए कंट्रोल रूम का प्रभारी एसडीएम सदर मोहन लाल गुप्ता को बनाया है।

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटर की परीक्षा 18 फरवरी से छह मार्च तक होने जा रही है। परीक्षा को सकुशल एवं नकल विहीन कराने के लिए शिक्षा विभाग ने तैयारी को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। जीआइसी में बनाए गए कंट्रोलरूम में लगाए गए कंप्यूटर से नेटवर्किंग का कार्य शुरू कर दिया गया है। जिले में बनाए गए 199 परीक्षा केंद्रों के प्रत्येक शिक्षण कक्ष में दोनों ओर सीसीटीवी कैमरे, वाइस रिकॉर्डर एवं राउटर, ब्रॉडबैंड कनेक्शन लगाए जाने का निर्देश दिया गया है। केंद्र व्यवस्थापकों को पारदर्शिता पूर्ण परीक्षा संचालन की वेबकास्टिग की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। परीक्षा केंद्रों पर लगने वाले उपकरणों की यूजर आइडी और पासवर्ड सीलबंद लिफाफे में परीक्षा प्रारंभ होने से पहले कार्यालय में उपलब्ध कराना है। जीआइसी में खोले गए कंट्रोलरूम में लगने वाले प्रत्येक कंप्यूटर से 10 से 15 परीक्षा केंद्रों को जोड़ा जा रहा है। प्रत्येक कंप्यूटर पर दो शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। यहीं से परीक्षा के दौरान प्रत्येक केंद्र की मानीटरिग की जाएगी। जहां गड़बड़ी या संदिग्धता दिखेगी वहां के बारे में सचल दल को सूचित किया जाएगा। सचल दल वहां पहुंचकर कार्रवाई करेगा। परीक्षा की जनपद के साथ ही प्रदेश से भी मानीटरिग होगी। गुरुवार को कंट्रोलरूम में जीआइसी के प्रधानाचार्य राजकुमार सिंह, कौशल पांडेय, अभिषेक मिश्रा, नसरत अली, श्याम शंकर आदि मौजूद रहकर विद्यालयों को नेटवर्किंग से जोड़ रहे थे। डीआइओएस सर्वदा नंद ने बताया कि जल्द ही सभी परीक्ष केंद्रों को कंट्रोल रूम से जोड़ दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस