प्रतापगढ़ : शुक्रवार को दूसरी पाली में इंटर समाजशास्त्र की परीक्षा 2373 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। जबकि पहली पाली में व्यवसायिक परीक्षा में 47 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। शुक्रवार को पहली पाली इंटर की व्यवसायिक विषयों की परीक्षा थी। 25 केंद्रों पर 711 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। परीक्षा में 664 परीक्षार्थी ही शामिल हुए। 47 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे। दूसरी पाली में इंटर की समाज शास्त्र की परीक्षा थी। 204 केंद्रों पर 15975 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। इसमें 13602 परीक्षार्थी शामिल हुए। 2373 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। डायट प्राचार्य डा. ओपी मिश्र, डीआइओएस एसपी यादव ने कई परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया।

25 फीसद ही बच्चे पहुंचे विद्यालय : इलाके के धधुआ गाजन गांव में मरम्मत के दौरान प्राथमिक विद्यालय की छत गिरने से दो मजदूर का मामला जांच के दायरे में अब तक नहीं आ सका। न तो किसी ने तहरीर दी और न जांच टीम ही पहुंची। घटना से सहमे अभिभावकों ने तीसरे दिन हिम्मत जुटाई, लेकिन कम। शुक्रवार को 25 फीसद बच्चे ही आए। परिसर में शीशम वृक्ष के समीप पढ़ाई की व एमडीएम में बनी तहरी खाई।

स्कूल समय से खुला। प्रधानाध्यापक व शिक्षक आए, जबकि आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहा। दोनों विद्यालयों को मिलाकर कुल 35 बच्चे ही दिखे। प्राइमरी के प्रधानाध्यापक लक्ष्मीधर दुबे ने बताया कि नामांकित 97 बच्चों में 13 बच्चे आए। पूर्व माध्यमिक की प्रधानाध्यापिका सुधा पांडेय ने बताया कि नामांकित 54 बच्चों में 22 उपस्थित रहे। फोन द्वारा कई लोगों से संपर्क करके उन्हें बच्चों को स्कूल भेजने का आग्रह किया गया। छत ढहने से हुई दो मजदूरों की मौत के मामले में जांच को बीएसए अशोक कुमार सिंह ने तीन सदस्यीय टीम गठित की है। इसमें खंड शिक्षाधिकारी सदर, लक्ष्मणपुर व जिला समन्यवक को रखा गया है। इन्हें घटना की जांच कर शीघ्र रिपोर्ट देने को कहा गया है, लेकिन घटना के तीसरे दिन भी टीम नहीं पहुंची। टीम के सदस्य खंड शिक्षाधिकारी लक्ष्मणपुर गौतम प्रसाद ने बताया कि भवन निर्माण से जुड़ा मामला है, ऐसे में जांच टीम के साथ एक तकनीकी विशेषज्ञ की मांग की गई है। इसके बाद ही जांच की जाएगी। उधर हादसे में जान गंवाने वाले मजदूर बद्री प्रसाद व राम करन के घर मातम पसरा है। कोतवाल गजानंद चौबे का कहना है कि घटना की तहरीर अभी नहीं मिली है।

Posted By: Jagran