कुंडा, प्रतापगढ़ : प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी भूमि पर अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का फरमान जारी होते ही सरकारी मशीनरी हरकत में आ गई है। कालाकांकर स्थित प्राथमिक विद्यालय की जमीन पर अवैध कब्जे की जांच भी शुरू हो गई है। डीएम के आदेश पर अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लिया।

नवाबगंज थाना क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय परसाई प्रथम की जमीन पर कई वर्षो पूर्व आसपास के लोगों ने कब्जा करके आवास बना लिया था। इसकी शिकायत गांव के ही राघवेन्द्र तिवारी उर्फ टेनी पुजारी ने जिलाधिकारी प्रतापगढ़ से की थी। तहसील प्रशासन ने इस मामले को नजर अंदाज कर दिया था। प्रदेश में सरकार बदलते ही हालात बदल गए। राघवेन्द्र तिवारी ने गुरुवार को जिलाधिकारी प्रतापगढ़ को एक बार फिर से शिकायत पत्र सौंपा। इसमें बताया कि परसाई पुर के सरकारी विद्यालय के खाता नं 385 गाटा संख्या पांच पाठशाला के नाम राजस्व अभिलेखों में दर्ज है। इस पर कुछ लोगों ने अवैधानिक तरीके से निर्माण कर लिया है। इससे आने जाने का रास्ता भी बंद हो गया है। बेदखली का मुकदमा तहसीलदार कुंडा के यहां विचाराधीन है। बदले निजाम का असर था कि कालाकांकर के खंड शिक्षाधिकारी सुनील कुमार व लेखपाल रमेश कुरील शुक्रवार को मौके पर पहुंच गए व जांच पड़ताल किया। इसमें सरकारी स्कूल की जमीन पर अवैध कब्जा कर मकान बने मिले। इस पर खंड शिक्षाधिकारी सुनील कुमार ने जमीन खाली कराने को कहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस