पीलीभीत,जेएनएन : टाइगर रिजर्व के बराही रेंज में डब्ल्यूटीआइ की टीम ने 11 किमी. के दायरे में गश्त की। इस दौरान शिकारियों द्वारा वन्यजीवों को पकड़ने के लिए लगाए जाने वाले फंदों की भी तलाश की गई। टाइगर रिजर्व का जंगल नेपाल सीमा से सटा होने और संदिग्धों की आवाजाही होने से जंगल में विचरण करने वाले वन्यजीवों को खतरा रहता है। वन विभाग के कर्मचारी और अधिकारी समय समय पर गश्त कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहते हैं। शुक्रवार को वाइल्ड लाइफ ट्रस्ट आफ इंडिया के मुनीष कुमार तोमर टीम के साथ बराही रेंज में पहुंचे। उन्होंने नौजल्हा वन चौकी के स्टाफ के साथ करीब 11 किमी. जंगल के किनारे गश्त की। वन्यजीवों को पकड़ने के लिए शिकारियों द्वारा प्रयुक्त होने वाली खाबर, जाल आदि भी टीम ने तलाशा। किसानों के खेतों में भी पहुंचकर टीम ने फंदों की तलाश की। वन्यजीवों की सुरक्षा को लेकर कर्मचारियों को बेहद अलर्ट रहकर गश्त करने के निर्देश दिए।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस