जागरण संवाददाता, पीलीभीत : सावन के दूसरे सोमवार को शिव मंदिरों में भक्तों की भीड़ रही। कांवड़ियों के जत्थे सुबह होते ही गौरीशंकर मंदिर की ओर उमड़ने लगे। हर हर महादेव, बम बम भोले के उद्घोष वातावरण में रह रहकर गूंजते रहे। गौरीशंकर मंदिर में दोपहर बाद तक भक्तों के पहुंचने,जलाभिषेक करने का क्रम चलता रहा। तमाम भक्तों ने उपवास रखकर भगवान शिव की आराधना की। सायं के समय भी तमाम लोग शिव मंदिरों में पहुंचे और भजन गाए। इसके बाद आरती हुई, जिसमें भी सैकड़ों भक्त शामिल रहे।

भोर होते ही मंडी समिति परिसर में ठहरे कांवड़ियों ने अपनी तैयारी शुरू कर दी। दैनिक क्रियाओं से निवृत्त होकर स्नान किया और फिर जलाभिषेक के लिए गौरीशंकर मंदिर की ओर चल पड़े। मंडी से निकलकर उपाधि महाविद्यालय चौराहा से ओवरब्रिज के नीचे वाले मार्ग से नौगवां चौराहा, एकता सरोवर तिराहा होते हुए लकड़ी मंडी, बरेली गेट, जेपी रोड से ड्रमंडगंज चौराहा होते हुए चौक बाजार के रास्ते तमाम कांवड़िए गौरीशंकर मंदिर पहुंचे। इस पूरे रास्ते पर शांति एवं सुरक्षा के लिए विभिन्न स्थानों पर पुलिस कर्मचारी तैनात रहे। इस दौरान अधिकारी भी भ्रमण पर रहते हुए सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे। अनेक कांवड़िया दूधिया नाथ महादेव मंदिर और अ‌र्द्ध नारीश्वर शिव मंदिर में दर्शन करने के उपरांत गौरीशंकर मंदिर पहुंचे। कांवड़ियों ने विधि-विधान से जलाभिषेक करके पूजन किया। अ‌र्द्ध नारीश्वर मंदिर में भी सुबह से समय भक्तों की कतार लग गईं। इसी तरह बल्लभ नगर स्थित ओंकारेश्वर महादेव मंदिर में भी पूजन करने के लिए तमाम भक्त पहुंचे। ज्यादातर भक्तों ने सोमवार के कारण अपना उपवास रखा। सायं को गौरीशंकर मंदिर में भगवान शिव का श्रंगार देखने और आरती में शामिल होने के लिए भी तमाम भक्त पहुंचे। देर शाम तक मंदिरों में भजन कीर्तन के स्वर गूंजते रहे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस