पीलीभीत : कूड़ा-कचरा के निस्तारण करने के लिए सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की स्थापना के लिए काफी समय से प्रयास किए जा रहे हैं, जो मूर्तरूप नहीं ले पा रहे हैं। नगर पालिका परिषद ने तहसीलदार को पत्र भेजकर जमीन के बारे में जानकारी दी है।

शहर के प्रत्येक वार्ड से कूड़ा-कचरा इकट्ठा होकर मुख्य प्वाइंटों पर लाया जाता है, जहां से ट्रालियों में भरकर निस्तारण के लिए ले जाया जाता है। कूड़ा निस्तारण करने के लिए कहीं जगह नहीं है। अब देवहा नदी तट के किनारे कूड़ा डालने का क्रम बंद हो गया है। ऐसे में नगर पालिका परिषद के सफाई कर्मचारी हाईवे के किनारे कूड़ा डालने के लिए मजबूर हो रहे हैं। किसी की अनुमति से प्राइवेट जंगल में कूड़े का निस्तारण किया जा रहा है। नगर पालिका परिषद की ओर से कई साल से सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट स्थापना के लिए जगह खोजी जा रही है, जहां पर कूड़े का निस्तारण हो सकेगा। तहसील सदर क्षेत्र के गांव सियाबाड़ी पट्टी में दस एकड़ जमीन देखी गई थी। इस जमीन के बारे में तहसील प्रशासन से पत्राचार किया जा रहा है। अब नगर पालिका परिषद की अधिशासी अधिकारी ने सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट स्थापना के लिए जगह आवंटित करने के लिए तहसीलदार सदर को पत्र भेजा है। सफाई एवं स्वास्थ्य निरीक्षक आबिद अली का कहना है कि प्लांट के लिए जगह का मुआयना किया जा चुका है। जगह के लिए तहसीलदार को पत्र भेजा गया है।

Posted By: Jagran