पीलीभीत, जेएनएन : बीसलपुर में करीब 20 लाख की धनराशि खर्च करके नगर में कराई गई पथ प्रकाश व्यवस्था अब चौपट हो चुकी है। मुहल्लों में खंभों पर लगीं स्ट्रीट लाइटें खराब पड़ी हैं। नगर पालिका परिषद खराब लाइटों की सुधि नहीं ले रही। इस कारण लोगों को अंधेरे में ठोकरें खानी पड़ती हैं।

एक लाख से अधिक आबादी वाले नगर के 25 वार्डों में पथ प्रकाश व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए पालिका प्रशासन ने प्रमुख चौराहों के अलावा गलियों व मार्गों पर हाई मास्ट तथा एलईडी लाइट समेत कुल 36 सौ लाइट लगवाई गईं। वर्ष 2020 में बरेली मार्ग, पीलीभीत व बिलसंडा मार्ग के किनारे लगे खंभों पर एलईडी बल्ब के साथ ही एलईडी झालर भी लगवाई गई थी। मुहल्लों में 200 वाट, 75 वाट, 40 वाट व 30 वाट की एलईडी भी लगवाई गई। पथ प्रकाश व्यवस्था को दुरुस्त बनाने में लगभग 20 लाख की धनराशि खर्च की गई। इसके बाद भी पथ प्रकाश व्यवस्था में सुधार नहीं हो पाया है। मुहल्ला दुबे, मुहल्ला बख्तावर लाल, मुहल्ला दुर्गा प्रसाद, मुहल्ला ग्यासपुर, मुहल्ला हबीबुल्लाह खां शुमाली समेत कई मुहल्लों में पथ प्रकाश व्यवस्था के लिए लगाई गई लाइटें खराब पड़ी हुई हैं। ठीक करवाने की ओर से पालिका प्रशासन ने चुप्पी साध रखी है। संत नगर कॉलोनी, रामलीला मेला कॉलोनी, सूरज कॉलोनी, महेंद्र नगर कॉलोनी समेत आधा दर्जन नई कॉलोनियों में पथ प्रकाश व्यवस्था न होने से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। पालिका प्रशासन द्वारा 14वें वित्त आयोग से स्वीकृति के लिए फाइल जिलाधिकारी कार्यालय भेजी गई थी परंतु जिलाधिकारी ने यह कहकर स्वीकृति देने से इन्कार कर दिया कि कालोनियों में पालिका प्रशासन पथ प्रकाश व्यवस्था अपने मद से उपलब्ध कराएं। पालिका के पथ प्रकाश प्रभारी मोहम्मद आलम ने बताया कि जिन कॉलोनियों में पथ प्रकाश व्यवस्था उपलब्ध नहीं है,वहां के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

कॉलोनी में पथ प्रकाश व्यवस्था लचर बनी हुई है। पालिका प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा। शाम ढलते ही गलियों में अंधेरा छा जाता है।

सोनी देवी,रामलीला कॉलोनी

हमारा संत नगर कॉलोनी मार्ग पर बरात घर है। कॉलोनी के मार्गों पर पथ प्रकाश व्यवस्था न होने से बरात घर में आने जाने वाले बरातियों को काफी परेशानी हो रही है कई बार पालिका के अधिकारियों से शिकायत कर चुके हैं परंतु ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

नवीन सक्सेना

बारापत्थर कालोनी में पथ प्रकाश व्यवस्था दुरुस्त न होने से लोगों को परेशानी हो रही है। कई बार इसकी शिकायत पालिका कार्यालय में कर चुके हैं परंतु ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

चंद्रपाल मौर्य

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप