अमरिया (पीलीभीत) : ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल सुविधा के लिए सरकार लाखों रुपये खर्च कर रही है। ग्रामवासियों को अभी तक पेयजल की सुविधा नहीं मिली है। तहसील मुख्यालय के साथ-साथ विकास खंड की सबसे बड़ी यह ग्राम पंचायत है। चार साल में पानी की टंकी का निर्माण पूरा हुआ है। पानी की सप्लाई अभी भी नहीं हो सकी है। गांव में टंकी की पाइप लाइन पूरी नहीं डाली गई है। जहां पाइप लाइन पड़ चुकी है वहां कनेक्शन होने के बाद भी पेयजलापूर्ति नहीं हो रही है। अभी कुछ मुहल्ले ऐसे भी हैं जहां टंकी पाइप लाइन नहीं पहुंची है। जल निगम विभाग भी इस समस्या पर गंभीर नहीं है। ग्रामीणों ने बताया कि पाइप लाइन डालने के समय सड़कें खोदी गई थीं। अधूरी सड़कों की मरम्मत की गई है।

फोटो 16 पीआइएलपी 12

-मुहल्ले में टंकी की लाइन के साथ साथ स्वच्छ पेयजल के लिए कनेक्शन भी हो गए हैं,लेकिन पानी की सप्लाई अभी तक नहीं मिली है जिससे ग्रामीण स्वच्छ पानी से महरूम हैं। पेयजल व्यवस्था पूरी तरह से चौपट है।

-नरेश कुमार गुप्त अमरिया फोटो 16 पीआइएलपी 13

-पेयजल की कोई व्यवस्था नहीं है । अभी तक पानी की टंकी की लाइन भी नहीं आई है । सभी मुहल्ले के लोग शुद्ध पेयजल के लिए परेशान हैं । पेयजल की व्यवस्था मोहल्ले में होनी चाहिए।

-साजिद मोहल्ला हाजीपुरा अमरिया फोटो 16 पीआइएलपी 14

टंकी की पाइपलाइन डालकर छोड़ दी गई है, लेकिन अभी तक पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। हैंडपंप भी काफी दूर लगा हुआ है जिससे बड़ी समस्या है पानी पीने के लिए 15 रुपये का पानी भरा वाटर कूलर खरीदते हैं।

-राशिद मलिक अमरिया फोटो 16 पीआइएलपी 15

पानी के लिए जब पाइपलाइन ही नहीं पड़ी है तो टंकी का पानी कैसे मिलेगा पास मे लगा हैंडपंप काफी समय से खराब पड़ा है अभी तक मरम्मत नही हुई है घरों का पानी इस्तेमाल किया जा रहा है सरकारी पेयजल व्यवस्था पूरी तरह से ठप है।

-जमा मलिक अमरिया फोटो 16 पीआइएलपी 16

-अभी तक पानी की कोई व्यवस्था नहीं है पेयजल के लिए लोगों को कब तक इंतजार करना पड़ेगा। लाइन डालकर कनेक्शन करके छोड़ दिया गया है। खोदी गई सड़क की मरम्मत नहीं की गई है। राहगीरों को निकलने मे कठिनाई हो रही है।

-दिल्लन शाह निवासी अमरिया ---वर्जन--

देरी का कारण जिस कंपनी का ठेका हुआ था वह निर्माण कार्य अधूरा छोड़कर चली गई थी। दूसरी कंपनी से निर्माण कराया गया है गांव में स्टैंड पोस्ट बनने के लिए हैं वाटर बाक्स से पानी की सप्लाई छोड़ी गई थी लाइन में जोड़ होने पर उनसे पानी लीकेज हो रहा था उसको ठीक कराया जा रहा है । इस महीने के अंत तक पानी की सप्लाई सुचारू रूप से चालू कर दी जायेगी । 210 कनेक्शन बजट में हैं सभी कर दिये गए हैं बजट में जितनी पाइपलाइन थी उतनी पड़ चुकी है जो मुहल्ले शेष रह गए हैं। उन मुहल्लों मे दूसरे बजट में पाइप लाइन डाली जायेगी।

-अमजद अली,जेई जलनिगम पीलीभीत। -----------------------------------------------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप