पीलीभीत,जेएनएन : विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत प्रशिक्षित लाभार्थियों को टूल किट के साथ ही प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत 38 लाख रुपये के ऋण वितरित किए गए।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिग के माध्यम से विभिन्न वर्गो के परंपरागत कारीगरी, शिल्प को बढ़ावा देने तथा लोगों को स्वरोजगार देने के उद्देश्य से शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के बढ़ई, लोहर, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, कुम्हार, हलवाई, जूते-चप्पल बनाने वाले स्वरोजगारियों तथा हस्तशिल्पियों के प्रोत्साहन एवं संव‌र्द्धन को टूल किट व ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किए। इस अवसर पर गांधी सभागार में सदर विधायक संजय सिंह गंगवार एवं जिलाधिकारी पुलकित खरे ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत जनपद के विभिन्न वर्ग के 150 श्रमिकों-कारीगरों को टूल किट व प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत 10 लाभार्थियों को कुल 28 लाख के ऋण स्वीकृति पत्र वितरित किए। लाभार्थी प्रेम पाल को 10 लाख, श्वेता अग्रवाल को 9.50 लाख, अवधेश खाद भंडार को 2 लाख, आकाश कुमार को 1.90 लाख, शाहरूख खान को 1.90 लाख सहित अन्य को ऋण स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए। इस अवसर पर विधायक ने लाभार्थियों से कहा कि उपलब्ध कराए गए संसाधनों से अपने रोजगार को प्रारंभ करें। अपने परिवार का अच्छे से भरण पोषण कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा योजना का लाभ प्रदान किया गया है, उससे अपने रोजगार में लगन के साथ कार्य करते हुए उन्नति करें। जिलाधिकारी ने कहा कि जो हुनर आपके अंदर है, उसे और निखारते हुए अपने रोजगार को आगे बढ़ाएं। साथ ही अन्य लोगों को भी अपने रोजगार से जोड़ने का कार्य करें। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार श्रीवास्तव, उपायुक्त उद्योग, एलडीएम सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran