जागरण संवाददाता, पीलीभीत : बरेली हाईवे पर स्थित शाही गांव के पास कांवड़ यात्रा के दौरान दूसरे समुदाय के लोगों ने गलत रूट की बात कहकर विरोध जताया। नाराज कांवड़ियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही प्रशासनिक और पुलिस अफसर फोर्स के साथ गांव में जा पहुंचे। किसी तरह स्थिति को कंट्रोल कर लिया गया। फिलहाल गांव में फोर्स तैनात कर दिया गया है।

जहानाबाद थाना क्षेत्र के शाही गांव में सोमवार सुबह करीब नौ बजे गांव के लोग हरिद्वार और कछला घाट से जल भरकर गांव में स्थित शिवमंदिर में जलाभिषेक करने के लिए जा रहे थे। आरोप है कि गांव के दूसरे समुदाय के लोगों ने कांवड़ यात्रा के गलत रास्ते की जाने की बात कहते हुए विरोध जताया। आनन-फानन में कांवड़ यात्रा को उस पर रास्ते पर जाने से रोक दिया गया। जिसके बाद कांवड़ियां भी भड़क गए। उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही एसडीएम सदर वंदना त्रिवेदी, सीओ सदर योगेंद्र कुमार, इंस्पेक्टर जहानाबाद कमल सिंह फोर्स के साथ में गांव जा पहुंचे। जिसके बाद दोनों पक्षों से वार्ता करने के बाद कांवड़ यात्रा को दूसरे रास्ते से निकालकर मंदिर तक पहुंचाया गया । वही कांवड़ियों का आरोप है कि प्रशासन और पुलिस ने दूसरे पक्ष के दबाव में कांवड़ यात्रा को दूसरे रास्ते से निकलवाया है। कहने के बाद भी प्रशासनिक अफसरों ने कोई भी बात सुनने को तैयार नहीं हुए। कांवड़ियों के मुताबिक कई वर्षों से उसी रास्ते से निकाल रहे थे। दूसरे समुदाय के लोगों ने इस बार हंगामा करते हुए उस पर रास्ते पर रोक लगा दी। कांवड़ यात्रा का जबरन रूट बदलने से ग्रामीणों में रोष है। जिसको लेकर गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है। गांव में पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया है। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अतुल सिंह और एएसपी रोहित मिश्र भी घटनास्थल पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। एएसपी ने बताया कि गांव में स्थिति सामान्य है। सुरक्षा ²ष्टि से गांव में फोर्स को तैनात कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप