पूरनपुर (पीलीभीत) : गन्ना विकास समिति की ओर से फर्जी सट्टे समाप्त किए जाने के लिए ढाई सौ किसानों की भूमि का सत्यापन कराया गया। मृतक किसानों व भूमिहीनों के सट्टे बंद कराए जा रहे हैं। एससीडीआइ ने फर्जी सट्टे पाने पर पर्यवेक्षकों को कार्रवाई की चेतावनी दी है। भाजपा सरकार की ओर से गन्ना माफिया पर नकेल कसने के सख्त निर्देश दिए गए हैं।

सरकार के निर्देश पर विभागीय अधिकारियों ने इस पर अमल शुरू कर दिया है। उप गन्ना आयुक्त सत्येंद्र ¨सह के आदेश पर फर्जी सट्टे रोकने के लिए किसानों की भूमि का सत्यापन पर्यवेक्षकों से कराया जा रहा है। एसडीआई सुनील शुक्ल ने बताया कि करीब 250 किसानों की भूमि की जांच की गई है। इसमें जमीन की फी¨डग अधिक मिली। 30-35 किसान मृतक मिले हैं। ऐसे में किसानों के सट्टे बंद कराए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कई किसानों की जमीन तो अधिक है लेकिन गन्ना की फसल पूरी भूमि पर नहीं लगाई है उनकी भी जांच कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि पर्यवेक्षकों को फर्जीवाड़ा समाप्त कराने के सख्त निर्देश दिए गए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप