पूरनपुर (पीलीभीत) : शारदा नदी का जलस्तर घट गया है। राणाप्रताप नगर से बाढ़ का पानी घरों से निकल गया है। गांव के रपटा पुल से भी महीनों बाद बाढ़ का पानी उतर जाने से ग्रामीणों ने कुछ राहत की सांस ली है। महीनों बाढ़ का पानी पुल से चलने से पुल डैमेज हो गया है। जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं और बजरी आदि बहकर एक तरफ लग गई है। रमनगरा क्षेत्र में नदी फिर से कटान करने लगी है।

हजारा क्षेत्र के राणाप्रतापनगर में पानी घरों से उतर तो गया है मगर लोगों के घरों में अभी भी लोप की मिट्टी से कीचड़ भरा हुआ है। इस कारण लोगों का रहना मुश्किल भरा हो गया है। लोग अभी भी इधर-उधर रह कर गुजर बसर कर रहे हैं। बाढ़ की मार से परेशान ग्रामीणों की सुध लेने के लिए तहसील प्रशासन अभी तक नहीं पहुंचा और ना ही पूरे गांव को मुआवजा व राहत सामग्री का ही वितरण कराया गया है। इतना ही नहीं बाढ़ के दौरान लोगों के घरों में चूल्हा नहीं चल सका। इस कारण लोग परेशान रहे लेकिन तहसील प्रशासन इन पीड़ित परिवारों के यहां पूड़ी सब्जी आज भी नहीं बांट सका। ग्रामीणों ने शीघ्र ही पूरे गांव में बाढ़ राहत सामग्री बनवाने की मांग की है। रमनगरा संवाद के अनुसार पानी घटते ही शारदा ने कई स्थानों पर फिर से कटान शुरू कर दिया है, इसके चलते लोगों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। कई स्पर भी नदी में समा चुके हैं। सैकड़ों एकड़ जमीन फसल समेत नदी में समा चुकी है।

Posted By: Jagran