उमेश शर्मा, पूरनपुर (पीलीभीत) :

प्रधानमंत्री आदर्श योजना में चयनित किए गए गांवों की जल्द ही सूरत बदली नजर आएगी। यह गांव सभी सुविधाओं से लैस होंगे। चयनित किए गए 10 गांव में 2 गांवों की सर्वे पूरी की जा चुकी है। बाकी गांवों में सर्वे का कार्य किया जा रहा है।

शासन की तरफ से पूरनपुर तहसील क्षेत्र के 10 गांवों को आदर्श ग्राम योजना में चयनित किया है। इन गांवों का प्राथमिकता के साथ विकास कराया जाएगा,जिससे यह गांव आदर्श गांव के रूप में अन्य गांवों के लिए मिसाल होंगे। इन गांवों को सीसी मार्ग, आवास, शौचालय, पेंशन योजना, पेयजल और बिजली आदि की सुविधाएं से लैस किया जाएगा। वर्ष 2019-20 में चयनित इन गांवों का सर्वे मार्च से शुरू हुआ है। गांव में रहने वाले गर्भवती महिलाएं, प्रसूता महिलाओं, पेंशन लाभार्थी, किसान, कर्मचारी, आबादी, शौचालय, आवास, 6 से 10 के पढ़ने वाले बच्चों आदि की जांच कर रिपोर्ट तैयार की जा रही है। इन गांवों में रहने वाले जिन लोगों को अभी तक सरकारी सुविधाएं नहीं मिली हैं उनको प्राथमिकता के आधार पर यह सुविधाएं दी जाएगी। चयनित गांवों में विधायक का भी गांव शामिल

तहसील क्षेत्र के गांव गैरतपुर जप्ती, चांटफिरोजपुर, जेठापुर खुर्द, मैनाकोट, पताबोझी, श्रीनगर, मोहनपुर गोविदपुर, सुआबोझ, मटेना तालुके घुंघचाई और उदरहा गांव शामिल हैं। गांव उदरहा विधायक का पैतृक गांव हैं। प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित किए गए इन गांवों का सर्वे कार्य चल रहा है। गांव उदरहा और मोहनपुर गोविदपुर का सर्वे पूरा हो चुका है। चयनित कई गांव रह चुके हैं अंबेडकर ग्राम

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित किए गए कई गांव अंबेडकर गांव रह चुके हैं। अधिकांश लोगों को शौचालय, आवास, पेंशन, पेयजल आदि की सुविधाएं पहले ही उपलब्ध करा दी गई थी। बाकी बचा हुआ विकास कार्य इस योजना के तहत किया जाएगा जिससे यह गांव दोबारा से चमचमा उठेंगे। आंबेडकर ग्राम योजना में हो चुका है कायाकल्प

शासन की तरफ से जिन गांवों को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित किया गया है वहां सुविधाएं तो है लेकिन लोगों को पेयजल की समस्या हो रही है। अधिकांश जगह लोग पानी की टंकी की मांग कर रहे हैं। बिजली व्यवस्था भी यहां दूरस्थ है। शौचालय, आवास और सीसी मार्ग का भी लाभ दिया जा चुका है। शासन की तरफ से चयनित किए गए गांव का सर्वे कार्य काफी प्रगति पर चल रहा है। दो गावों का कार्य पूरा भी कर लिया गया है। बाकी के गांवों का सर्वे कर रिपोर्ट जल्द ही अधिकारियों को भेजी जाएगी।

-ज्ञान चंद्र आर्य,एडीओ समाज कल्याण एवं नोडल अधिकारी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस