पूरनपुर (पीलीभीत) : स्वास्थ्य विभाग के रहमोकरम पर झोलाछाप की दुकानें बेखौफ चल रहीं और मरीजों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा। ग्रामीणांचल में सबसे अधिक दुकानें झोलाछाप खोले हैं और शहरी इलाकों में भी गलियों में दुकानें खुली हैं। लाल, पीली व नीली टेबलेट को देकर इलाज के नाम पर लूट मचाए हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के आगे पीछे ही कई दुकानें झोलाछाप की खुली हैं और बेंच पर मरीजों को भर्ती किया जाता है। यह झोलाछाप दिल के दर्द से लेकर सर्दी, खांसी, जुकाम व बुखार का भी इलाज का रहे हैं। मरीज को इंजेक्शन और ग्लूकोज की बोतलें भी चढ़ा देते हैं। कुछ ठीक होते हैं पर कईयों की जान भी यह नीम हकीम ले लेते हैं। सीएमओ डॉक्टर सीमा अग्रवाल ने बताया स्वास्थ्य विभाग की ओर से अभियान चलाया जाएगा। ऐसे हालातों की सूचना मिलने पर झोलाछाप के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। यहां चलती हैं दुकानें

घुंघचाई, बलरामपुर, कसगंजा, रम्पुरा कपूरपुर, घाटमपुर, नजीरगंज निजामपुर, गढ़वाखेड़ा, रायपुर, सिमरिया, शेरपुर, जटपुरा, सिरसा, पिपरिया दुलई, सबलपुर, कलीनगर, जमुनिया, पिपरिया संतोष, नवदिया सुखदासपुर, डगा, रमनगरा, गभिया सहराई, हजारा, कबीरगंज, कुरैया, सेहरामऊ, शाहगढ़, सकरिया गांवों में झोलाछाप चांदी काट रहे हैं।

Posted By: Jagran