कलीनगर (पीलीभीत) : माधोटांडा से सवारियां भरकर पीलीभीत जा रही टाटा मैजिक नवदिया सुखदासपुर गांव के पास गहरी खाई में जा घुसी। दुर्घटना में करीब डेढ़ दर्जन यात्री घायल हो गए , जिन्हें निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। लापरवाह मैजिक चालक के विरूद्ध थाना माधोटांडा पुलिस को तहरीर देकर रिपोर्ट मांग की गई।

पीलीभीत माधोटांडा रूट की प्राइवेट बसों का संचालन मैजिक चालकों की वजह से थम हो चुका है। पुलिस के संरक्षण में चल रही टाटा मैजिक 20 से 25 सवारियां भर कर यात्रियों की जान से खिलवाड़ कर रही हैं। चे¨कग के नाम पर कभी भी इन वाहनों का चालान नहीं किया जाता है। मैजिक का संचालन कराने वाले कुछ लोग रोजाना धन उगाही करके पुलिस को हर माह सुविधा शुल्क देते हैं। हर मैजिक में अगली ड्राइवर वाली सीट के साथ 4 से 5 सवारियां बैठाई जाती है, जिस कारण चालक सही ढंग से वाहन को कंट्रोल नहीं कर पाता है। मैजिक में पीछे भी हर सीट पर 4 से 5 सवारियां बैठाने के साथ पायदान पर खड़ा करके यात्रियों से मनमाना किराया वसूलते हैं। थाना और कलीनगर जमुनिया व गजरौला की रिछोला चौकी के सामने से गुजरने वाली ओवरलोड मैजिक को पुलिस अनदेखा कर रही है। मंगलवार को थाना क्षेत्र के नवदिया सुखदासपुर गांव से पश्चिम कुछ दूरी पर माधोटांडा से सवारियां भरकर पीलीभीत जा रही टाटा मैजिक का चालक राजू वाहन पर नियंत्रण खो बैठा। टाटा मैजिक करीब 10 फुट गहरी खाई में जा गिरी। उसमें बैठी सवारियां चीखने चिल्लाने लगी। ऐसे में खेतों में काम कर रहे लोग व राहगीरों ने मैजिक में फंसे घायल यात्रियों को निकालकर अस्पताल भिजवाया। पुलिस भी मौके पर पहुंची। घायलों को पीलीभीत के निजी अस्पतालों में इलाज के लिए उनके परिजन ले गए हैं। इस घटना में घायल कलीनगर के वार्ड 5 की शांति देवी (60) पत्नी सीता राम व उसकी बेटी का 10 वर्षीय पुत्र रोहित घायल हो गया। पुत्र लोकनाथ ने पुलिस को तहरीर देकर मैजिक चालक के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप