जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : यमुना एक्सप्रेस-वे पर तीन अप्रैल को जेवर टोल प्लाजा के पास छह क्विंटल चांदी लूट मामले में जेवर पुलिस ने दो और आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों से करीब 30 किलो चांदी, एक मोटरसाइकिल व दो तमंचे बरामद किए हैं। आरोपित आरिफ व नदीम दिल्ली के आइपी एस्टेट के रहने वाले हैं।

पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सुनीति ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों ने घटना को अंजाम देने से एक दिन पूर्व दो अप्रैल को जेवर टोल प्लाजा के पास रेकी की थी। इसमें गिरफ्तार आरोपित आरिफ भी शामिल था। आरिफ इलेक्ट्रिक उपकरण की दुकान चलाता है। उसे पंद्रह दिन में चार से पांच लाख रुपये देने का लालच दिया गया था। उल्लेखनीय है कि तीन अप्रैल को आगरा के रहने वाले कुलदीप ¨सह दीगरा ने ब्लू डार्ट कोरियर से इंदिरा गांधी एयरपोर्ट के लिए चांदी भेजी थी। आगरा से चालक अमित कुमार व गनमैन सतवीर ¨सह करीब छह क्विंटल 18 किलो चांदी लेकर इंदिरा गांधी एयरपोर्ट के लिए निकले। इसी दौरान करीब ढाई बजे जेवर टोल प्लाजा के समीप नीली बत्ती लगी इनोवा कार में पुलिस वर्दी में लैस बदमाशों ने फर्जी अधिकारी बनकर चांदी लदी वैन को रोक लिया व जांच के बहाने गाड़ी को अपने साथ ले गए। कुछ दूर जाते ही आरोपितों ने गनमैन को बंधक बनाकर वैन को लूट लिया। मामले में नौ व 11 अप्रैल को पुलिस ने सात आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इनसे लूट की चांदी भी बरामद की गई थी। दो और आरोपितों को जेवर पुलिस ने रबूपुरा-जेवर के सीमा क्षेत्र के समीप से शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। कुछ आरोपित अभी भी हैं फरार: लूट प्रकरण का मुख्य आरोपित अभी भी पुलिस गिरफ्त से फरार चल रहा है। गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ में कुछ और नए नाम भी सामने आए हैं। पुलिस मुख्य आरोपित समेत अन्य आरोपितों को भी गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने दावा किया है कि जल्द ही मामले के सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस