जागरण संवाददाता, नोएडा :

जिले में 32वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के लिए सेक्टर-62 स्थित इंडस वैली स्कूल में कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसका उद्घाटन डीएम बीएन सिंह ने किया।

जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क पर जान-माल की सुरक्षा और पर्यावरण शुद्ध बनाए रखना हमारी प्रमुख जिम्मेदारी है। उन्होंने सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से परिवहन विभाग द्वारा तैयार किए गए दो फ्लायर्स का विमोचन किया। एसपी ट्रैफिक अनिल झा ने कहा कि सड़क दुर्घटना में प्रतिदिन लगभग एक बड़े जम्बो बोइंग विमान की यात्री की क्षमता के बराबर लोगों की मृत्यु हो जाती है। इस पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए हमें पहले खुद को सुधारना होगा। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.सुनील दोहरे ने विद्यार्थियों की सहायता से सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों को प्राथमिक सहायता देने के संबंध में विस्तार से चर्चा की। मुख्य अग्निशमन अधिकारी अरुण कुमार सिंह द्वारा सड़क सुरक्षा के तहत वाहनों में अग्निशमन यंत्रों के प्रयोग पर चर्चा की गई। फिल्म कंपनी की ओर से स्वतंत्र कुमार, अनुज व रजत द्वारा सड़क सुरक्षा के संबंध में तकनीकी जानकारी से अवगत कराया गया। परिवहन विभाग के एआरटीओ हिमेश तिवारी ने कहा कि सभी नागरिकों को अपने व्यवहारिक आचरण में संयम और अनुशासन लाने की जरूरत है। एआरटीओ प्रशासन एके पांडेय व एआरटीओ प्रवर्तन हिमेश तिवारी ने कहा कि 20 अक्टूबर तक चलने वाले इस कार्यक्रम के तहत कई गतिविधियों के जरिये ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाया जाएगा।

इंडस वैली स्कूल की प्रिसिपल शिखा शर्मा ने अभिभावकों से अपील कि वे 18 वर्ष से कम उम्र के विद्यार्थियों को वाहन न चलाने दें। इस दौरान नोएडा बस यूनियन के संदीप धुप्पड़, अनिल दीक्षित स्कूल बसों के चालक व ट्रांसपोर्टर मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप