जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : जिला प्रशासन ने 78 तालाब चिह्नित किए हैं। जिनका सुंदरीकरण कराया जा रहा है। अधिकारी ज्यादातर तालाबों के सुंदरीकरण कराए जाने के दावे कर रहे हैं, लेकिन प्रशासन के दावे हाशिए पर हैं। अंदाजा सूरजपुर कस्बे के तालाब को देखकर लगाया जा सकता है। ग्रामीणों के मुताबिक तालाब की आधी से ज्यादा जमीन पर दबंगों का कब्जा है। तालाब कब्जा मुक्त कराने को ग्रामीण शासन व प्रशासन से कई बार गुहार लगा चुके हैं। बावजूद इसके बाद प्रशासन ने तालाब को कब्जा मुक्त नहीं करा सका है। तालाब की एक तिहाई जमीन पर दबंगों का कब्जा है। प्रशासन ने तालाब की जमीन को कब्जा मुक्त कराए शेष बची जमीन का सुंदरीकरण कराया है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है। उल्लेखनीय है कि पहले चरण में प्रशासन ने 78 तालाब चिह्नित किए हैं। सुंदरीकरण का काम चल रहा है। इन तालाबों में कई तालाब ऐसे हैं। जिन पर दबंगों ने कब्जा कर रखा है। जिला प्रशासन ने तालाब से दबंगों का कब्जा हटाए बगैर बचे तालाब का सुंदरीकरण करा दिया। ग्रामीण कई कई बार लगा चुके हैं तालाब को कब्जामुक्त कराने की गुहार

सूरजपुर के लोग तालाब को कब्जा मुक्त कराने को कई बार शासन व प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं। तालाब को कब्जामुक्त कराने के लिए ग्रामीण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा से भी शिकायत कर चुके हैं। बावजूद इसके तालाब से कब्जा नहीं हटा है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी बीएन ¨सह से शिकायत की है। जिसके बाद प्रशासन ने शेष जमीन को जल्द कब्जा मुक्त कराने का आश्वासन दिया है। -प्रशासन की तालाब के सुंदरीकरण किए जाने की योजना सराहनीय है। लेकिन तालाब की एक तिहाई हिस्सा पर दबंगों का कब्जा है। जमीन को कब्जा मुक्त कराना भी प्रशासन की कार्ययोजना में शामिल होना चाहिए।

-राकेश कुमार

-तालाब को कब्जा मुक्त कराने के लिए शासन व प्रशासन से कई बार शिकायत की गई। बावजूद इसके तालाब से कब्जा नहीं हटा है। तालाब के सुंदरीकरण कराए जाने के साथ तालाब को कब्जा मुक्त कराने की जरूरत है।

-घनश्याम

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस