जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा के मुख्य गोलचक्कर परीचौक पर पुलिस की ओर से हर 50 मीटर पर कुल 21 जागरूकता पोस्टर लगवाए गए हैं। इसमें लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया गया है कि किसी भी अज्ञात वाहन चालक से लिफ्ट न लें, आपराधिक घटना हो सकती है। पुलिस ने अपील की है कि यात्रा के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट का ही प्रयोग करें या फिर एप से कैब बुक कराएं। अज्ञात वाहन चालक इन दिनों लोगों को कार में लिफ्ट देकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। आरोपितों की तलाश में पुलिस की टीमें लगी हुई हैं।

एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा विशाल पांडेय ने बताया कि हमारा प्रयास है कि शहर को सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराया जाए। इसके लिए लोगों की हिस्सेदारी भी जरूरी है। कई बार परीचौक पर लोग आटो या बस के इंतजार में खड़े रहते हैं। कम किराया लगने के लालच में लोग अज्ञात गाड़ी में लिफ्ट ले लेते हैं और कुछ दूर चलने के बाद घटना का शिकार हो जाते हैं। इन दिनों शहर में पेचकस गिरोह सक्रिय है, जो कि लिफ्ट देकर घटना कर रहा है। ऐसे बदमाशों की तलाश तो पुलिस कर ही रही है साथ ही लोगों को भी पुलिस के इस अभियान में सहयोग करना होगा। जागरूक नागरिक का परिचय देते हुए लोग खुद अज्ञात वाहन में लिफ्ट न लें और अपने करीबियों को भी इसके प्रति जागरूक करें। जीरो प्वाइंट पर लगाएं पोस्टर

पुलिस की तरफ से परीचौक व उसके आसपास के अलावा यमुना एक्सप्रेस वे के जीरो प्वाइंट पर भी जागरूकता पोस्टर लगाए गए हैं। जीरो प्वाइंट पर लोग आगरा, मथुरा, अलीगढ़, लखनऊ, इटावा, मैनपुरी, सैफई जाने के लिए गाड़ियों का इंतजार करते हैं।

Edited By: Jagran