जागरण संवाददाता, नोएडा :

नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) की प्रबंध निदेशक एवं नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी सीईओ रितु माहेश्वरी ने सोमवार को एक्वा लाइन मेट्रो का निरीक्षण किया। शाम पांच सेक्टर 51 मेट्रो स्टेशन पहुंच कर उन्होंने सबसे पहले निश्शुल्क ई-रिक्शा सेवा से पाथ-वे का भ्रमण किया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) और एनएमआरसी स्टेशनों के बीच सवारियों को आवाजाही में किसी भी प्रकार की देरी न हो, अन्य विकल्पों पर भी कार्ययोजना तैयार करें। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए कि जल्द ही डीएमआरसी और एनएमआरसी दोनों लाइन पर एक ही टिकट का इस्तेमाल हो सके, इसके लिए जल्द व्यवस्था बनाई जाए। साथ ही लास्ट माइल कनेक्टिविटी के लिए यदि जरूरी हो तो फीडर बसों व ई-रिक्शा की संख्या में भी बढ़ोतरी करने करने पर विचार करने को कहा।

इस दौरान वह मेट्रो संचालन के लिए तैयार कंट्रोल रूम का निरीक्षण कर तकनीकी जानकारी हासिल की। यहां उन्होंने सुरक्षा, रखरखाव, पार्किंग समेत अन्य जानकारियों के बारे में विस्तार से अधिकारियों से चर्चा की। इसके बाद वह मेट्रो पायलेट के साथ सवार हुई और सेक्टर-137 तक मेट्रो में सफर किया। सफर के दौरान उन्होंने पायलेट व अधिकारियों से ऑपरेटिग सिस्टम के बारे में जानकारी ली। इस दौरान वह सवारियों से भी मिलने पहुंचीं, एक्वा लाइन व डीएमआरसी के बीच मिलने वाली सुविधाओं के अंतर को समझने का प्रयास किया। इसके बाद वह सेक्टर-137 से वापस मेट्रो से ही सेक्टर-51 स्टेशन पर उतरी। इस दौरान उनके साथ महाप्रबंधक वित्त मनोज वाजपेयी, चीफ ऑपरेटिग ऑफिसर आरके सक्सेना समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस