ग्रेटर नोएडा [मनीष] यूपी एसटीएफ ने गोंडा के डॉक्‍टर अपहरण कांड में 5 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इस केस में हुए खुलासे में किडनैपिंग का कारण हनीट्रैप बताया गया है। हनीट्रैप के जरिए डॉक्‍टर का अपहरण किया गया जिसके बाद उसे गोंडा के जरिए दिल्‍ली-एनसीआर लाकर में कई जगह घुमाते रहे। खुलासे में यह बताया गया है कि पीएएमएस की पढ़ाई कर रहे डॉक्‍टर गौरव हलदर को दिल्‍ली के ही एक डॉक्‍टर अभिषेक सिंह ने अपने परिचित महिला डॉक्‍टर के साथ मिलकर पहले फंसाया। इसके बाद उसके अपहरण की पूरी प्‍लानिंग रची। गौरव को पहले महिला डॉक्‍टर ने मिलने के लिए बुलाया और इसके बाद साथी डॉक्‍टर अभिषेक ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे नशे का इंजेक्‍शन दे दिया। नशे की सुई देने के बाद उसे गोंडा लाया गया फिर उसे दिल्‍ली-एनसीआर में घुमाते रहे जिससे वह पुलिस की नजरों में धूल झोंकते रहे। हालांकि, एसटीएफ ने इनकी सारी चालाकी को धता बताते हुए इन्‍हें गिरफ्तार कर लिया।

5 बदमाशों को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया

गोंडा से छात्र का अपहरण कर 80 लाख की फिरौती मांगने वाले 5 बदमाशों को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है ।अपहरण के बाद बदमाशों ने छात्र को दिल्ली में बंधक बनाकर रखा था। एसटीएफ ने गोंडा पुलिस के साथ संयुक्त ऑपरेशन कर तीन बदमाशों को मौके से गिरफ्तार कर छात्र को सकुशल बरामद किया। दो बदमाशों की गिरफ्तारी गोंडा से हुई है, एक महिला आरोपित अभी फरार है।

गोंडा के एसपी शैलेश कुमार पांडे ने प्रेस वार्ता कर दी पूरी जानकारी

सूरजपुर स्थित एसटीएफ कार्यालय पहुंचकर गोंडा के एसपी शैलेश कुमार पांडे ने प्रेस वार्ता की। उन्होंने बताया दिल्ली के एक निजी राठी अस्पताल में काम करने वाले डॉक्टर अभिषेक सिंह ने अपने साथी डॉक्टर डॉ प्रीति व चार अन्य लोगों के साथ मिलकर अपहरण की योजना तैयार की थी । 18 जनवरी को गोंडा पहुंचकर बदमाशों ने मेडिकल की पढ़ाई कर रहे छात्र निखिल का अपहरण किया था।

यह भी पढ़ें:UP Doctor Kidnapping Case: अपहृत डॉक्‍टर की बरामदगी से परिवार में खुशी  की लहर, पिता बेटे से मिलने नोएडा रवाना

अपहरण के बाद दिया नशे का इंजेक्शन 

अपहरण के बाद बदमाशों ने निखिल को नशे का इंजेक्शन दे दिया था, इस कारण वह हमेशा बेहोशी की हालत में रहता था। गोंडा पुलिस व एसडीएफ टीम बदमाशों की तलाश में लगी हुई थी। सूचना के बाद गुरुवार देर रात ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेसवे जीरो पॉइंट के पास से एसटीएफ व पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में बदमाशों को कार के साथ गिरफ्तार किया गया।

बदमाशों का साथ देने वाली महिला डॉक्टर डॉ प्रीति मेहरा फरार

शैलेश कुमार पांडे ने बताया कार से डॉक्टर अभिषेक, नितेश व मोहित सिंह की गिरफ्तारी हुई है। दो अन्य आरोपी रोहित व सतीश को गोंडा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बदमाशों का साथ देने वाली महिला डॉक्टर डॉ प्रीति मेहरा अभी फरार है। पुलिस ने छात्र को उसके परिजन को सौंप दिया है। एसटीएफ व गोंडा पुलिस को सरकार की तरफ से दो लाख का इनाम घोषित किया गया है। बदमाशों के पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त पिस्टल, एक कार, नशे का इंजेक्शन व अन्य सामान बरामद किया है।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप