नोएडा[मोहम्मद बिलाल]। सपा नेता सुनील चौधरी नोएडा विधानसभा क्षेत्र से सपा समाजवादी (पार्टी) और राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के संयुक्त प्रत्याशी होंगे। सुनील चौधरी इससे पूर्व भी सपा के टिकट पर वर्ष-2012 और वर्ष-2017 में विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। जहां वर्ष-2012 में उन्हें तीसरा और वर्ष-2017 में उन्हें दूसरा स्थान मिला था। सपा नेता सुनील चौधरी ने बताया कि जल्द ही कुछ देर में इस संबंध में उनके साथ अन्य प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में प्रमुख मुद्दा बिल्डर-बायर, किसान, कच्ची कालोनी का विकास है। महिला सुरक्षा और शहर का मुद्दा प्रमुख है। सरकार बनने पर बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा।

वहीं सपा महानगर अध्यक्ष दीपक विग ने कहा कि नोएडा विधानसभा- 61 से सपा के वरिष्ठ नेता सुनील चौधरी को एक बार फिर से नोएडा विधानसभा सेक्टर 61 का प्रत्याशी घोषित किया गया है। उन्होंने टिकट मिलने पर शीर्ष नेतृत्व का वह समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष वह पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि इस बार समाजवादी पार्टी की लहर है लोग त्रस्त हैं और प्रदेश की जनता बदलाव चाहती है।

इस बार जिले की तीनों सीट भारी बहुमत से जीतने जा रहे हैं। सुनील चौधरी को टिकट मिलने से प्रत्याशियों में खुशी की लहर है। गौरतलब है कि नोएडा विधानसभा से जहां कांग्रेस ने ब्राह्मण और महिला पंखुडी़ पाठक, बसपा ने ब्राह्मण कृपा राम शर्मा और बीजेपी ने एक बार फिर से क्षत्रीय व निवर्तमान विधायक पंकज सिंह को टिकट दिया है। वहीं सपा ने एक बार फिर से गुर्जर पर दाव खेला है। इसके बाद नोएडा विधानसभा से विधायक की लड़ाई रोचक होने जा रही है। सभी प्रत्याशी जीत का दावा कर रहे हैं।

बता दें कि नोएडा से भाजपा, कांग्रेस और बसपा ने पहले ही अपने उम्मीवारों के नाम की घोषणा कर दी थी। भाजपा ने मौजूदा विधायक पंकज सिंह पर भरोसा जताया है। वहीं बसपा ने कृपाराम शर्मा को प्रत्याशी बनाया है। कांग्रेस पंखुड़ी पाठक को टिकट दिया है। नोएडा विधासभा सीट पर मतदान दस फरवरी को होगा और वोटों की गिनती दस मार्च को होगी।

 

Edited By: Mangal Yadav