नोएडा, जागरण संवाददाता। एक तरफ देश गंभीर बीमारी से जूझ रहा है वहीं ठग ऐसे मौके पर भी बाज नहीं आ रहे हैं। इस संकट के दौर में भी लोग जिस तरह से रोजाना कोई न कोई नई तकनीक हमारे जीवन में आ रही है, ठीक उसी तरह इस तकनीक का फायदा उठाने और लोगों को चूना लगाने के लिए ठग गिरोह भी सक्रिय हो गए। लॉकडाउन में ठगी का अनूठा तरीका सामने आया है। ठगी का शिकार हुए सेक्टर-74 स्थित सुपरटेक केपटाउन निवासी युवक ने इस मामले की प्रशासन व पुलिस की वेबसाइट पर शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

हाल में ही चालू हुआ था एप

हाल ही में किराना सामान की पूर्ति के लिए एक ग्रोसियो नाम से एप चालू हुआ है। लोग इसपर लगातार ऑर्डर भी कर रहे हैं। सेक्टर-74 स्थित सुपरटेक केपटाउन निवासी शुभांशू शेखर शुक्ला ने बताया कि उनका क्षेत्र हॉट स्पॉट में तब्दील है। ऐसे में वह घर से नहीं निकल सकते हैं। उन्होंने एप पर 29 मार्च को राशन का सामान ऑर्डर किया और 3200 रुपये ऑनलाइन जमा किए थे। उन्हें 14 अप्रैल डिलीवरी की तिथि मिली। डिलीवरी अवधि को चार दिन बीत चुके हैं, लेकिन उन्हें अभी तक सामान नहीं मिला।

100 से ज्‍यादा लोग हुए ठगी का शिकार

वह लगातार एप की वेबसाइट पर संपर्क कर रहे हैं, लेकिन अब सामने से जवाब भी मिलने बंद हो गए है। जबकि वेबसाइट पर ऑर्डर ऑन द वे दिखाया जाता है। जानकारी हुई है कि 100 से ज्यादा लोग इससे ठगी का शिकार हो चुके हैं। इनमें नोएडा के भी कई लोग है। जिन्हें हजारों रुपये का चूना लग चुका है।

डीएम सुहास एलवाई से हुई शिकायत

पीड़ित ने मामले की डीएम सुहास एलवाई व पुलिस की वेबसाइट पर शिकायत की है। साथ ही मुख्यमंत्री को भी ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की। इस बारे में डीएम सुहास एलवाई का कहना है कि अभी तक ऐसी सूचना नहीं मिली है। यदि ऐसा है तो मामले में कार्रवाई की जाएगी।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस