नोएडा, जागरण संवाददाता। नोएडा की सबसे ऊंची बिल्डिगों में शुमार सुपरनोवा में शनिवार की शाम को हादसा हो गया। सेक्टर-39 कोतवाली क्षेत्र के सेक्टर-94 स्थित सुपरनोवा इमारत के 18वें तल पर शनिवार को आग लग गई। कंस्ट्रक्शन के सामान से खाली हुई गत्ते में आग कैसे लगी इसका कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। गत्ते में लगी आग से इमारत में अफरातफरी मच गई, हालांकि वहां मौजूद कर्मचारियों ने तुरंत की इस पर काबू पा लिया।

आग से जानहानि की सूचना नहीं

सीएफओ अरुण कुुमार सिंह ने बताया कि आग लगने की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की एक गाड़ी मौके पर भेजी गई, लेकिन उससे पहले ही आग पर काबू पा लिया गया। इसमें किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। जांच में पता चला है कि जहां पर आग लगी थी वहां पर बिल्डिंग में लगने वाले टाइल्स के भारी मात्रा में गत्ते रखे हुए थे। जिसमें कहीं से आकर चिंगारी पड़ गई थी। आग लगने का कारणों का पता लगाया जा रहा है। इमारत के पास से गुजर रहे कई लोगों ने घटना का वीडियो बना लिया और उसे इंटरनेट मीडिया के विविध प्लेटफार्म पर साझा किया। 

इमारत के झड़ रहे प्लास्टर, लोग परेशान

नोएडा के दैनिक जागरण संवाददाता वैभव तिवारी के अनुसार चार दिनों से लगातार हो रही वर्षा के कारण कई सेक्टर की इमारत में प्लास्टर झड़ने की समस्या सामने आ रही है। इसके कारण सोसायटी के लोग परेशान हैं। मामले में लोगों ने प्राधिकरण से शिकायत कर इमारत की मरम्मत कराने की मांग की है। सेक्टर - 82 के उद्योग विहार सोसायटी व सेक्टर - 99 स्थित एलआईजी अपार्टमेंट में वर्षा के बाद से सोसायटी की बिल्डिंग से जगह-जगह प्लास्टर झड़ रहा है। इससे दुर्घटना का खतरा बना हुआ है। सेक्टर- 82 उद्याेग विहार सोसायटी के आरडब्ल्यूए अध्यक्ष सुशील शर्मा का कहना है कि सोसायटी की स्ट्रक्चरल आडिट कराने की मांग कई बार लोगों से की है, लेकिन अधिकारी के साथ जनप्रतिनिधि भी इसमें रुचि नहीं ले रहे हैं। प्लास्टर अगर किसी पर गिर गया तो इसकी जिम्मेदारी लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की होगी। सेक्टर- 99 एलआईजी अपार्टमेंट में रहने वाली जिमी वालिया का कहना है कि वर्षा में प्लास्टर गिर रहा है। इससे वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई संज्ञान नहीं ले रहा है। सोसायटी में लोग इमारत की स्ट्रक्चरल आडिट कराने की मांग कर रहे है।

Edited By: Prateek Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट