नोएडा, जागरण संवाददाता। ग्रेटर नोएडा वेस्ट की निराला एस्पायर सोसायटी में एक बच्चे के लिफ्ट में फंसने का मामला सामने आया है। लिफ्ट में बच्चा करीब 10 मिनट तक फंसा रहा। पूरी घटना लिफ्ट में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। मामले में सुरक्षा गार्ड की बड़ी लापरवाही सामने आई है। सोसायटी के लोगों ने बताया कि बच्चा देर शाम करीब छह बजे अपनी साइकिल के साथ लिफ्ट में सवार हुआ। लिफ्ट में सवार होने के बाद बच्चे ने जैसे ही बटन दबाया लिफ्ट चौथे व पांचवे फ्लोर के मध्य में अटक गई। लिफ्ट में तकनीकी खाराबी आने के बाद बच्चा करीब 10 मिनट तक फंसा रहा।

चिखता चिल्लाता रहा बच्चा

इस दौरान बच्चा चिखता चिल्लाता रहा। बच्चे ने अलार्म भी बजाया। जिसे सुनकर सोसायटी के लोग एकत्र हो गए। सूचना मेंटेनेंस प्रबंधन को दी गई। जिसके बाद बच्चे को लिफ्ट से बाहर निकाला जा सका। सोसायटी के लोगों ने बताया कि टावर के बाहर एक गार्ड तैनात है, लेकिन गार्ड अपनी सीट से नदारद था। यदि गार्ड टावर के नीचे मौजूद होता तो लिफ्ट में बच्चे के फंसने की घटना घटित नहीं होती। जिस समय बच्चे को लिफ्ट से बाहर निकाला गया वह काफी डरा व सहमा हुआ था।

सोसायटी के लोगों में आक्रोश 

सोसायटी के ए -8 टावर के फ्लैट संख्या 1401 में प्रियांशु अपने परिवार के साथ रहते हैं। उन्होंने बताया कि उनका आठ वर्षीय बेटा विवान शाम को ट्यूशन गया था। छह बजे के करीब वह ट्यूशन से सोसायटी लौटा। जैसे ही वह ग्राउंड फ्लोर से अपने घर जाने के लिए लिफ्ट में सवार हुआ। लिफ्ट चौथे व पांचवे फ्लोर के मध्य में अटक गई। बच्चा लिफ्ट से बाहर निकलने के लिए चिखता चिल्लाता रहा। उसकी चीख पुकार सुनकर सोसायटी के लोग एकत्र हो गए। जिसके बाद सूचना रखरखाव प्रबंधन को दी। करीब 10 मिनट के बाद बच्चे को लिफ्ट से बाहर निकाला जा सका। घटना के बाद से सोसायटी के लोगों में आक्रोश है। बच्चे के लिफ्ट में फंसने की घटना की वीडियो इंटरनेट मीडिया पर तेजी से प्रसारित हो रही है।

यह भी पढ़ें- Noida: गुलशन बेलिना सोसायटी की लिफ्ट में आधे घंटे तक फंसे रहे छह बच्चे, हादसे से डरे और सहमे

Edited By: Abhi Malviya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट