नोएडा, ऑनलाइन डेस्क। उत्तर प्रदेश के नोएडा में पिछले सप्ताह 13 नवंबर को युवती के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में अब नया मोड़ आ गया है। दिल्ली से सटे नोएडा के बहलोलपुर में पुलिस चौकी से चंद कदम की दूरी पर बने पार्क में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार पीड़िता की मानें तो हैवानियत के दौरान जब उसने शोर मचाया तो कुछ लोग मदद के लिए पहुंचे जरूर, लेकिन उन्होंने भी उसके साथ मुंह काला किया। 

उधर, गौतमबुद्धनगर के एसएसपी वैभव कृष्ण की मानें तो आरोपित रवि पीड़ित युवती को जानता था, इसलिए उसके बुलाने पर युवती पार्क में पहुंची थी। दरअसल, रवि ने युवती से नौकरी से जुड़ी जरूरी बात के लिए उसे मिलने के लिए बुलाया था। जैसे ही युवती पार्क में पहुंची तो वहां मौजूत रवि के साथ साथियों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।  यह भी पता चला है कि आरोपति रवि के साथ उसका भाई भी पीड़िता को जानता था, लेकिन रवि ने युवती के साथ दुष्कर्म नहीं किया।

फेज-3 थाना प्रभारी के मुताबिक,सामूहिक दुष्कर्म के आरोपित शराब के नशे में थे। यह भी जानकारी मिली है कि आरोपित रवि ने 7वीं तक पढ़ाई की है तो ब्रजकिशोर ने 11वीं, पीतांबर ने 8वीं और उमेश सिर्फ 5वीं कक्षा तक पढ़ा है।  

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपित युवती मूलरूप से उत्तर प्रदेश के कासगंज की रहने वाली है और फिलहाल बेरोजगार थी और अपने माता-पिता के साथ छिजारसी में रह रही थी। जहां आरोपित कम पढ़े-लिखे थे वहीं, पीड़ित युवती ग्रेजुएट है, लेकिन उसे नौकरी नहीं मिल रही थी। 

दरिंदगी से घायल युवती का इलाज जारी 

बताया जा रही है कि सामूहिक दुष्कर्म की शिकार युवती की पिटाई भी की गई, जिससे उसके संवेदनशील अंगों में चोट भी आई है। यही वजह है कि इलाज के दौरान उसे राहत नहीं मिल पाई है।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप