नोएडा [आशुतोष अग्निहोत्री]। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद माहौल खराब करने के लिए अफवाह फैलाने के आरोप में पुलिस ने उत्तर प्रदेश नव निर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया है। गिरफ्तार किए गए दूसरे व्यक्ति का नाम हेमंत चौधरी है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अमित जानी को सतर्कतावश गिरफ्तार किया गया है, जबकि हेमंत चौधरी ने डायल 100 पर फोन करके अफवाह फैलाई थी।

बता दें कि अमित जानी पहले भी सोशल मीडिया पर भड़काउ पोस्ट डालता रहा है। इसके अलावा उस पर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का भी आरोप लगता रहा है। वहीं हेमंत चौधरी पुरानी रंजिश निकालने के लिए पुलिस को गलत सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया कि आरोपित ने गलत जानकारी देकर माहौल खराब करने की कोशिश की। इसके बाद उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया।

अमित जानी का विवादों से पुराना नाता रहा है 

बता दें कि अमित जाना का विवादों से पुराना नाता रहा है। अमित साल 2009 में महाराष्ट्र नवनिमार्ण सेना के विरोध करने को लेकर सुर्खियों में आये थे। इसके बाद उन पर लखनऊ में मायावती की मूर्तियों को तोड़ने का आरोप लगा था। जबकि कश्मीरियों को यूपी से निकल जाने की धमकी देने का भी आरोप लग चुका है। इसके अलावा पर अमित जानी पर जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और जेएनयू के छार् उमर खालिद को जान से मारने की धमकी देने का आरोप लग चुका है।

Ayodhya Verdict: सुप्रीम कोर्ट के फैसले का मस्जिदों के इमाम ने किया स्वागत, शांति की अपील

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए  यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस