नई दिल्ली/ग्रेटर नोएडा [प्रवीण विक्रम सिंह]। वर्ष 2019 में मुजफ्फरनगर में हुई ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री का कनेक्शन ग्रेटर नोएडा से जुड़ता दिखाई दे रहा है। दरअसल, पिछले दिनों ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क में युवक की हत्या कर शव को शारदा गोलचक्कर के समीप नाले में फेंक दिया गया था। ग्रेटर नोएडा पुलिस ने बुधवार को युवक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम कराकर स्वजन को सौंप दिया है। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को युवक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम कराकर स्वजन को सौंप दिया है। युवक की पहचान रोहित निवासी भालौट, थाना आइएमटी जिला रोहतक के रूप में हुई है। दावा किया गया है कि वर्ष 2019 में मुजफ्फरनगर में हुई ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री से युवक जुड़ा हुआ है। उस दौरान जो तीन लोगों की हत्या हुई थी, रोहित उनका दोस्त है। हैरानी की बात है कि रोहित की हत्या के मामले में स्वजन ने कोई मुकदमा नहीं दर्ज कराया है।

दरअसल, हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव भैंसवाल निवासी तीन युवक प्रदीप, रवि और अक्षय की 17 अप्रैल 2019 को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के खतौली में हत्या कर दी गई थी। तीनों युवक जिस स्कार्पियो में बैठे थे उसको गंग नहर में धकेल दिया गया था। हत्या के मामले में उस दौरान पुलिस ने हामिद उर्फ गााली, नवीन मलिक, जितेंद्र उर्फ जीतू, सीटू व सतपाल को गिरफ्तार किया था। अब रोहित की हत्या के मामले ने एक बार फिर से आरोपितों पर शक गहरा कर दिया है। हालांकि मुकदमा दर्ज नहीं होने की वजह से नॉलेज पार्क कोतवाली पुलिस अभी मामले में किसी नतीजे तक नहीं पहुंची है।

दादरी में भी मिला था शव

ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री से जुड़ा एक शव बीते साल अगस्त 2020 में ग्रेटर नोएडा की दादरी कोतवाली क्षेत्र में भी मिला था। जिसका व्यक्ति का शव मिला उसके गायब होने का मुकदमा हरियाणा में दर्ज था इस वजह से केस हरियाणा ट्रांसफर कर दिया गया था।

विशाल पांडेय (एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा) का कहना है किपोस्टमार्टम रिपोर्ट में पुष्टि हुई है कि युवक की मौत डूबने से हुई है। स्वजन ने अभी मुकदमा दर्ज नहीं कराया है।

 

Edited By: Jp Yadav