नोएडा, जेएनएन। दिल्ली से सटे नोएडा सेक्टर-135 में वाजिदपुर के पास 27 वर्षीय युवक की हत्या में पुलिस जांच के दौरान कई अहम खुलासे हुए हैं। युवक की जेब से जो आधार कार्ड मिला है वह दिल्ली का है। जांच में जुटी पुलिस को युवक के प्राइवेट पार्ट के पास ऐसी चीजें मिली हैं, जिससे कयास लगाया जा रहा है कि उसकी हत्या अवैध संबंधों के चलते हुई होगी। फिलहाल जो बात सामने आ रही है उसके मुताबिक, युवक की हत्या करके वाजिदपुर में शव फेंका गया है।

शव के मिले टायरों के निशान

जांच के दौरान युवक के शव के पास में ही एसयूवी के टायरों के निशान मिले हैं। एक्सप्रेस-वे थाने के एसएचओ भुवनेश कुमार गौतम ने बताया कि सोमवार सुबह ग्रामीणों ने वाजिदपुर के पास यमुना डूब क्षेत्र में एक युवक का शव मिलने की सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से मृतक की शिनाख्त करवाने की कोशिश की, लेकिन किसी ने उसे नहीं पहचाना।

शव के पास दिखे एसयूवी गाड़ियों के पहिये के निशान

कोतवाली प्रभारी भुवनेश कुमार ने बताया कि जहां शव बरामद हुआ है वहां खून के निशान नहीं दिख रहे हैं जिस प्रकार से शरीर पर चोटों के निशान है। देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि युवक के सिर पर किसी भारी वस्तु से हमला कर हत्या की गई है। वहीं, घटनास्थल के पास कच्ची सड़क पर एसयूवी के पहिये के आने-जाने व मुड़ने के निशान दिख रहे हैं। यह क्षेत्र रात के समय काफी सुनसान रहता है। आशंका है कि गाड़ी से शव लाकर रात के समय यहां फेंका गया है।

वाजिदपुर गांव के पास यमुना किनारे डूब क्षेत्र में संदिग्ध हालात में 27 वर्षीय युवक का शव हालत में मिला। सोमवार सुबह एक ग्रामीण भंवर सिंह की सूचना पर कोतवाली एक्सप्रेस -वे पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मृतक के सिर पर गंभीर चोट के निशान हैं। उसके सिर पर किसी भारी वस्तु से हमला कर हत्या की आंशका जताई जा रही है। पुलिस ने कहीं और हत्या के बाद शव वाजिदपुर गांव के पास फेंकने की आशंका जताई है। अब तक शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है, पुलिस शव की शिनाख्त में जुटी है। हत्या सहित अन्य धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज कर पुलिस ने जांच कर रही है।

जेब से दिल्ली के एक अन्य व्यक्ति का मिला आधार कार्ड

मृतक की जेब से दिल्ली निवासी एक अन्य व्यक्ति का आधार कार्ड मिला है। इससे आशंका है कि मृतक युवक का दिल्ली से कनेक्शन हो सकता है। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि आधार कार्ड नंबर के आधार पर जांच शुरू हुई तो पता लगा कि वह आधार नंबर जोरबाग दिल्ली के एक बैंक अकाउंट से जुड़ा है। उस खाता धारक का मोबाइल नंबर लेकर जब पुलिस ने संपर्क कर शव की शिनाख्त कराने की कोशिश की तो वह व्यक्ति शव की पहचान नहीं कर सका। पुलिस ने उसे डिटेल पूछताछ के लिए कोतवाली बुलाया है। पुलिस की अब तक की जांच में हत्या की वारदात के समय किसी महिला के भी मौके पर होने के सुबूत मिले हैं। अब तक की जांच को आधार मानें तो अवैध संबंधों की वजह से हत्या की आशंका है। कोतवाली प्रभारी ने कहा कि शव की शिनाख्त होने पर जांच आगे बढ़ सकेगी व मामले का पर्दाफाश भी हो सकेगा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस