नोएडा, जागरण संवाददाता। गौतमबुद्ध नगर के डीएम  सुहास एलवाई ने बताया कि स्‍थिति पूरी तरह नियंत्रण में हैं। लोगों की सुविधा के लिए एक इंट्रीग्रेटेड कंट्रोल रूम नंबर जारी किया गया है। डीएम ने ट्वीट करते हुए कहा कि इस नंबर पर कभी भी जरूरतमंद फोन पर सहायता प्राप्‍त कर सकता है। इंट्रीग्रेटेड कंट्रोल रूम का नंबर 18004192211 है। जिसे लोगों के लिए जारी किया गया है। 

दर्ज हुई 600 एफआइआर

वहीं, लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर जिले में अबतक करीब साढ़े छह सौ एफआइआर दर्ज की जा चुकी है व करीब 2 सौ लोगों को पुलिस ने धारा 188 के तहत एफआइआर दर्ज कर गिरफ्तार किया है। पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्धनगर आलोक सिंह ने कहा कि जिले में लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन कराया जा रहा है व नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्ती से कार्रवाई कर रही है। जिले में 9 अप्रैल तक 42 हजार 197 वाहनों को पुलिस ने चेक किया है व 6079 वाहनों का चालान व 54 वाहन सीज किये हैं।

भ्रामक खबर फैलाने वाले 7 लोगों की हुई गिरफ्तारी

भ्रामक खबरें फैलाने के मामले में 7 व्यक्तियों की गिरफ्तारी हुई है। अब तक 650 एफआईआर दर्ज करते हुए 2&16 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। एक लाख से अधिक जुर्माना भी वसूल हुआ है। आवश्यक वस्तु अधिनियम के अन्तर्गत एफआइआर दर्ज कर अलग-अलग जगहों से तीन लोग गिरफ्तार भी किये गए हैं। विभिन्न स्थानों के सीसीटीवी फुटेज का भी परीक्षण कराया जा रहा है।

200 जगहों पर बैरियर

288 लाउडस्पीकर से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। जिले की सभी सीमाएं सील हैं व चिन्हित सभी हॉटस्पाट क्षेत्र सहित जिले के विभिन्न स्थानों पर कुल 200 जगहों पर बैरियर लगाकर वाहनों की जांच की जा रही है। इस दौरान केवल आवश्यक सेवाओं से जुडे वाहनों व व्यक्तियों को आवागमन में छूट है। तीन अग्निशमन वाहनों का प्रयोग कर हॉटस्पॉट वाले क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन व घनी आबादी वाले क्षेत्रों में ड्रोन की मदद से छिड़काव किया जा रहा है। प्रदेश में प्रत्येक व्यक्ति को घर से बाहर सार्वजनिक स्थलों में निकलते समय फेसकवर (मास्क) पहनना अनिवार्य है। बिना मास्क घर से बाहर निकलने पर कार्यवाही की जाएगी। 

बृहस्पतिवार को 149 गिरफ्तार

बृहस्पतिवार को पुलिस ने अलग-अलग जगह सात एफआइआर दर्ज करते हुए कुल 149 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने 445 वाहनों की जांच कर 200 वाहनों का चालान किया है व कई वाहनों को सीज किया है। इस दौरान 15 सौ रुपये वसूल किया गया है।

हॉटस्पाट वाले क्षेत्रों को लेकर पुलिस सतर्क

जिले में चिंहित किये गए हॉटस्पाट वाले क्षेत्र प्रशासन की तरफ से सील किये जाने के बाद सुरक्षा को लेकर वहां पुलिस टीम 24 घंटे मुस्तैद है। जिन व्यक्तियों को शासन की तरफ से छूट दी गई है उसके अलावा अन्य किसी को भी प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी जा रही है। सीनियर पुलिस अधिकारी भी लगातार उन जगहों की निरीक्षण व मॉनिटरिंग कर रहे हैं। 

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस