नोएडा, जेएनएन। राज्यसभा में तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) पास होने के बाद दादरी कोतवाली में एसएसपी के आदेश पर शनिवार को पहला मामला दर्ज किया गया। दादरी कोतवाली पुलिस ने बताया कि दादरी के नई आबादी मोहल्ला निवासी इकबाल व ईदरीश का निकाह दनकौर निवासी जहूर की दो बेटियों शमीना व शबाना के साथ 29 मार्च 2005 को हुआ था।

पीड़ित जहूर का आरोप है कि बेटी शमीना का पति इकबाल दहेज की मांग को लेकर आए दिन उसे परेशान करने लगा। आरोप है कि जब शमीना ने मायके से पैसे लाने से इन्कार कर दिया तो 27 जुलाई की शाम उसके पति ने उससे मारपीट की।

मारपीट में समीना की सास हनीफा, ननद नरगिस, ससुर सलीम व देवर इकलाख भी शामिल थे। शोर शराबा सुनकर जब बहन शबाना उसे बचाने आई तो आरोपितों ने उसे भी जान से मारने की धमकी दी। आरोप है कि तीन तलाक देने की धमकी देते हुए शमीना को कमरे में बंधक बना लिया गया।

इसके बाद शबाना ने डायल 100 पर घटना की घटना की सूचना पुलिस को दी थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। 31 जुलाई को पीड़ित महिला के पिता ने एसएसपी से शिकायत करते हुए आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज करने की गुहार लगाई थी।

दादरी कोतवाली प्रभारी नीरज मलिक का कहना है कि इस मामले में पति व दो महिलाओं समेत पांच आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। इसी सप्ताह राज्यसभा में यह बिल पास होने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इसे अपनी मंजूरी प्रदान की थी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस