ग्रेटर नोएडा (प्रवीण विक्रम सिंह)। ग्रेटर नोएडा में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ हुआ है। यह फर्जी कॉल सेंटर ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र में चल रहा था। यहां से चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है।

सूरजपुर में चल रहा था खेल

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र स्‍थित सेक्‍टर 142 में चल रहे फर्जी कॉल सेंटर का भंडा फोड़ कर दिया है। पुलिस ने मौके से चार आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। गिरोह का सरगना प्रवीण मिश्रा भी पुलिस के हत्‍थे चढ़ चुका है। यह मात्र बीए पास है।

कैसे शुरू किया फर्जीवाड़े का धंधा

प्रवीण की मुलाकात एक साल पहले एक रिक्‍शा चालक से हुई। इन दोनों की मुलाकात नोएडा के सिटी सेंटर के पास हुई थी। उसने रिक्‍शा चालक को झांसे में लेकर एक खाता खुलवा लिया फिर उसके नाम का इस्‍तेमाल करते हुए उसके खाते से लेन देन की प्रकिया शुरू कर दिया।

कैसे करता था ठगी

प्रवीण एक नामी एयरलांइस कंपनी में नौकरी देने के नाम पर ठगी करता था। वह बेरोजगारों को खासकर जो एयरलाइंस जैसी कंपनी में नौकरी की चाह रखते हो उसे अपने झांसे में ले लेता था इसके बाद वह रिक्‍शा चालक के खाते में पैसे डालने के लिए कहता था। इस काम में उसके साथ एमबीए पास सहित कई अन्‍य लोग भी शामिल थे।

कब से चल रहा था यह खेल

यह खेल करीब एक साल से चल रहा था। प्रवीण ने बताया कि वह शाइन डाट काम से डाटा चुरा कर लोगों को फोन करता था। उसके बाद वह नौकरी के नाम पर लोगों से ठगी करता था। अभी हाल में ही उसने एक व्‍यक्‍ति से 50,000 रुपये ठगे थे। बरामद हुए पैसे के संबंध में प्रवीन मिश्रा ने बताया कि ये वही पैसे हैं जो हम इस अकाउंट में डलवाकर एटीएम से तुरन्त निकाल लेते थे, जिससे बैक रिफन्ड ना कर सके।

क्‍या-क्‍या हुआ बरामद

1- 2 लैपटॉप कंपनी DELL o LENEVO

2- 1 मुहर SOMANLE INFO SERVICES की

3- 7 की पैड मोबाइल

4- 1 प्रिंटर मशीन SAMSUNG कंपनी की

5- 1 ATM कार्ड सिडिकेट बैक का

6- आॅफिस एग्रीमेंट मय इलेक्ट्रिक बिल की 7 प्रति

7- कॉल स्पीच की 5 प्रति

8- 2 इलेक्ट्रिक वायर

9- 440840 रूपये नगद

10-SHINE-COM पोर्टल से निकाली गई लिस्ट की 20 प्रति

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक 

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप