नोएडा (कुंदन तिवारी)। विश्व में उद्योग ही एेसा साधन है, जो दुनिया में हमें विश्व गुरु की उपाधि दे सकता है। इसके लिए जरूरी है नैतिकता और इच्छा शक्ति। उद्योग बनेंगे, रोजगार बढ़ेगा, आर्थिक स्थिति बेहतर होगी, तब समाज में फैली बुराइयां स्वत: ही समाप्त होती जाएंगी। सरकार की मंशा है उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए इसके लिए एक जिला एक उत्पाद योजना लेकर आए। 70 वर्षो में जितनी योजनाएं नहीं आई उतनी ढाई साल में लेकर आए। यह बात बृहस्पतिवार को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) राज्य मंत्री चौधरी उदयभान सिंह ने कही।

प्रदर्शनी का हुआ उद्घाटन

चौधरी उदयभान सिंह नोएडा सेक्टर-62 स्थित एक्सपो सेंटर में एसएमएसई की ओर से आयोजित उद्यम समागम एवं प्रदेश सरकार के एक जिला एक उत्पाद (रेडीमेड गारमेंट्स) प्रदर्शनी के उद्घाटन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। उन्होंने उद्यमियों को संबोधित करते हुए कहा कि योजना को बनाना और उसे कागज से बाहर न निकालना एक पक्ष हो सकता है। इसे साकार रूप देने और इसका लाभ उद्यमियों व जनमानस को मिले इसके लिए जरूरी है इच्छा शक्ति। जब तक इच्छा शक्ति नहीं होती तब तक कोई योजना सफल नहीं हो सकती है। यदि किसी व्यक्ति की नीयत अच्छी है उसमें इच्छा शक्ति है। परमात्मा उसे राह दिखाता है।

प्रदेश सरकार की मंशा उत्‍पाद बढ़ाना

प्रदेश सरकार की मंशा है एक जिला एक उत्पाद को बढ़ावा देने की है। इससे पहले भी जिले में कई तरह के उत्पाद बनाते थे, लेकिन किसी सरकार ने यह नहीं सोचा कि फिरोजाबाद में चुड़ियों का काम होता है वह कैसे आगे बढ़ा, अलीगढ़, में ताले का काम आया वह कैसे बढ़ा। मुरादाबाद में पीतल, सहारनपुर में लकड़ी का काम आया, तो उसे कैसे बढ़ाया जाए।

सरकार की नीयत साफ

उन्होंने कहा कि सरकार की नीयत साफ है। उद्यमियों की समस्या निस्तारण के लिए कभी भी आना होगा आऊंगा, अधिकारियों की आवश्कता होगी, केबिनेट मंत्री की जरूरत होगी वह भी आएंगे। संवाद करेंगे समस्या का निस्तारण किया जाएगा। सफल इसलिए होंगे क्योंकि हमारी नीयत और इच्छा शक्ति साफ है। उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे गांव के कुटिर उद्योगों को शहर से जोड़ा जाए। यहां से कच्चा माल वहां भेजा जाए वहां निर्माण किया जाए वहां से माल यहां आए यहां से विदेश में निर्यात किया जाए। इससे एक साथ या एक चेन बनती है। उद्यमी अपनी साख बनाने की प्रयास करता है साख और सुविधा एक हाथ है। यदि सुविधा नहीं होगी तो साख कैसे बच पाएगी। 

सरकार देगी हर सुविधा

उद्यमियों की साख बचाने के लिए उनको जो भी सुविधाएं सरकार से चाहिए वह उन्हें दी जाएंगी। इसके लिए हम यहां आकर बैठेंगे। समाधान करने के लिए अधिकारियों के साथ मंत्रियों के साथ आवश्यकता हुई तो मुख्यमंत्री के साथ बैठकर बातचीत की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि हाल ही में वह वाराणसी गए थे, यहां पर उन्होंने युवाओं के राेजगार की बात कही। इस पर वहां की इकाइयों ने 100 युवाओं को बुलाकर पहले प्रशिक्षित किया और उसके बाद उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया। इसी प्रकार से झांसी में भी 300 युवाओं को रोजगार मिला है। उम्मीद है कि प्रदेश का सबसे बड़ा औद्योगिक हब भी युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने में कदम ताल करेगा।

 C-40 summit: ऑड र्इवन की उपलब्‍धियों को केजरीवाल पहुंचाएंगे कोपेनहेगन

 श्री अकाल तख्त ने दिया DSGPC को झटका, दिल्ली से सिर्फ एक नगर कीर्तन जाएगा पाकिस्तान

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप