जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : कासना स्थित राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) के चौथे शासी निकाय (जीबी) की बैठक बुधवार को हुई। इस ऑनलाइन बैठक की अध्यक्षता प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने की। देर रात तक चली बैठक में मुख्य सचिव ने कोरोना महामारी के दौरान किये जा रहे उपचार एवं देखभाल के लिए जिम्स के निदेशक डॉक्टर (ब्रिगेडियर) राकेश कुमार गुप्ता की सराहना की। उन्होंने जिम्स में खरीदे गए उपकरणों की भी जानकारी ली और आवंटित बजट का पूरा उपयोग करने को कहा।

उन्होंने जिले को ट्रामा सेंटर की सौगात देने के साथ संस्थान में अस्पताल प्रबंधन विभाग खोलने की भी मंजूरी दी। मुख्य सचिव ने निदेशक को संस्थान में सुपर स्पेशलिटी विशेषज्ञों को बतौर अतिथि फैकल्टी बुलाने पर भी सहमति दी। इससे एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के साथ गंभीर मरीजों को उपचार में मदद मिलेगी। संस्थान में मरीजों की बेहतर देखभाल व उपचार के लिए सीनियर रेजीडेंट के अतिरिक्त पद सृजित किए जाने के भी निर्देश दिए। जिम्स में पैरा मेडिकल विद्यार्थियों के लिए इंटर्नशिप व एनएचएम संबंधी प्रशिक्षण केंद्र बनाए जाने पर भी सहमति बनी। कोरोना व अन्य शोध कार्यो को देखते हुए मेडिकल रिसर्च यूनिट बनाये जाने पर भी सहमति बनी। बैठक में चिकित्सा शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. रजनीश दुबे, चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण के महानिदेशक डॉ. केके गुप्ता, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण उपस्थित रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस