जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : अधिकारिक दौरे पर बुधवार को ग्रेटर नोएडा पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनावी माहौल से खुद को दूर नहीं रख पाए। उन्होंने विपक्षी दलों पर निशाना साधा। पूर्व मुख्यमंत्रियों के गौतमबुद्ध नगर आने में संकोच पर उन्हें कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्रियों के पास जनता के लिए कोई एजेंडा नहीं था। खुद और सत्ता के बारे में ही सोचते रहे। जनता के उन्नयन के लिए कुछ नहीं किया।

विधानसभा चुनाव के बीच मुख्यमंत्री कोविड की तीसरी लहर में स्थिति का जायजा लेने बुधवार को ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान और क्यामपुर गांव पहुंचे। कोविड के दौरान अपनी सरकार के कार्यो को गिनाते हुए उन्होंने विरोधी दलों पर हमला किया। उन्होंने गौतमबुद्ध नगर से प्रदेश की जनता को संदेश देते हुए कहा कि पूर्व के मुख्यमंत्री गौतमबुद्ध नगर में आने से सिर्फ इसलिए संकोच करते थे कि कहीं उनकी कुर्सी न चली जाए। उन्हें सिर्फ अपने जीवन और सत्ता की चिता थी। जनता के लिए कोई काम नहीं किया। जनता के लिए उनके पास एजेंडा नहीं था। जनता के आर्थिक उन्नयन के लिए भी उन्होंने कुछ नहीं किया। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि वे कई बार गौतमबुद्ध नगर आ चुके हैं और जनता के हित में किए जा रहे कार्यो का निरीक्षण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोविड की पहली व दूसरी लहर में केंद्र व प्रदेश सरकार ने मिलकर बेहतरीन काम किया है। तीसरी लहर में कोविड मरीजों के लिए इंतजाम का जायजा लेने के लिए फिर से आए हैं।

Edited By: Jagran