जागरण संवाददाता, नोएडा : बिशनपुरा गांव में सीवर के पानी की निकासी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। निवासियों का कहना है कि यहां सीवर लाइन तो डाली हुई, लेकिन न तो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) हैं और न ही सीवरेज निकासी के लिए कहीं कनेक्शन है। हालत यह है कि सीवर का पानी सड़कों पर बहता है। बारिश के दिनों स्थिति और अधिक खराब हो जाती है। निकासी की समुचित व्यवस्था न होने के कारण यहां सड़कों पर ही पानी जमा रहता है। हाल यह है कि सड़क टूट चुकी है। इस वजह से यहां से आने जाने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

रामकुमार तंवर ने बताया कि इस बारे में प्राधिकरण के अधिकारियों से कई बार शिकायत की जा चुकी है लेकिन बावजूद इसके कोई भी कार्रवाई करने को तैयार नहीं। सड़क की बेहाल स्थिति व गंदगी के कारण गांव वालों का बाहर निकलना भी मुश्किल हो चुका है। उन्होंने बताया कि स्थिति देख यह कहा जा सकता है कि स्वच्छ भारत निर्माण की धज्जियाँ उड़ रहीं है। प्राधिकरण के अधिकारी स्थिति देखने तो दूर की बात, समस्या सुनने के लिए भी तैयार नहीं।

Posted By: Jagran