ग्रेटर नोएडा, संवाददाता : अखिल भारतीय किसान सभा ने यमुना एक्सप्रेस-वे पर ग्रामीणों के लिए टोल टैक्स माफ करने की मांग की है। सभा का कहना है कि किसानों की जमीन कौडियों के भाव लेकर सड़क बना दी गई। पुनर्वास और रोजगार के लिए कुछ नहीं किया गया। अपनी जमीन से गुजर रही सड़क पर किसान टोल टैक्स नहीं देंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने हरियाणा की तर्ज पर किसानों के लिए टोल टैक्स माफ नहीं किया तो आंदोलन होगा। सभा ने एक्सप्रेस-वे को नहीं चलने देने की चेतावनी दी है।

किसान सभा ने जेवर में बैठक कर निर्णय लिया कि यमुना एक्सप्रेस-वे पर ग्रामीणों से वसूले जाने वाले टैक्स का विरोध किया जाएगा। हरियाणा समेत कई राज्यों में किसानों से टोल टैक्स नहीं वसूला जाता। ग्रामीणों के लिए पास बनाए जाते हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने अब तक किसानों के पक्ष में ऐसा निर्णय नहीं किया है। एक्सप्रेस-वे के साथ बनने वाले सर्विस रोड भी अधूरा है। सर्विस रोड पूरा किए बिना एक्सप्रेस-वे को चालू किया गया तो ग्रामीणों को आवागमन में दिक्कत होगी। किसान सभा के जिलाध्यक्ष नत्थीराम शर्मा ने कहा कि सरकार ने किसानों को छूट दिए बिना एक्सप्रेस-वे का उदघाटन कराया तो किसान सड़क पर धरना देकर बैठ जाएंगे। निर्णय लिया गया कि एक्सप्रेस-वे के किनारे पड़ने वाले गांवों में जागरूकता अभियान चलाकर ग्रामीणों को टोल टैक्स के बारे में अवगत कराया जाएगा। एक्सप्रेस-वे के किनारे गांव के लोगों को ढाबा, टायर पंचर लगाने व चाय, कॉपी, कोल्ड ड्रिंक आदि की दुकान चलाने के लिए जगह देने की भी मांग की गई। इस मौके पर धीर सिंह, भीम सिंह, गोपाल शर्मा, महमूद, हरप्रसाद, जीत सिंह, सतवीर सिंह, अनवर अली आदि भी मौजूद रहे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस