मुजफ्फरनगर, जेएनएन। आसपास के क्षेत्रों के कोल्हुओं में काम करने वाले बिहार के अप्रवासी कामगारों के सामने घर जाने की समस्या है। उनका आरोप है कि वह कई दिनों से सरकारी कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं लेकिन कोई उन्हें घर भेजने के लिए कोई कुछ नहीं कर रहा है।

कस्बे के पिमौडा मार्ग पर एक कोल्हू में बिहार के कुछ लोग कार्य करते थे। लॉकडाउन के चलते वह अब वहीं पर रह रहे हैं। उनके आसपास के कोल्हुओं में काम करने वाले अन्य लोग भी यहीं पर आ गए हैं। करीब यह डेढ़ दर्जन लोग अपने प्रदेश में जाने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर काट रहे हैं। लेकिन उनका आरोप है कि कोई उनकी सहायता नहीं कर रहा है। इसके कारण वह अपने घर में जाने के लिए परेशान हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोल्हु का काम अब खत्म हो गया है। लेकिन वह घर नहीं जा पा रहे हैं। उनके सामने अब खाने व रहने की समस्या भी उत्पन्न हो गई है। सभी ने उन्हें अपने घर भेजने की मांग की है। इंस्पेक्टर योगेश शर्मा ने बताया कि इस कोल्हू में कुछ ही मजदूर बिहार के काम करते थे, लेकिन उन्होंने आसपास के जनपदों से भी अपने रिश्तेदारों को यहां पर बुला लिया है। उन्होंने कोल्हू संचालक से एक गाड़ी करने के लिए कहा कि जिससे उन सब को उनके घर भेजा जा सके। यदि कोल्हू संचालक उन्हें भेजने के लिए तैयार नहीं हुआ तो अन्य साधन से इन्हें भेजा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस