जेएनएन, मुजफ्फरनगर। मीरापुर में गन्ना पर्ची व कैलेंडर में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए भाकियू तोमर के कार्यकर्ताओं ने सहकारी गन्ना समिति पर धरना-प्रदर्शन किया। किसानों ने जिला गन्ना अधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुए समस्याओं का समाधान कराने की मांग की।

भाकियू तोमर के जिलाध्यक्ष अखिलेश चौधरी के नेतृत्व में गुरुवार को दोपहर में धरना-प्रदर्शन किया गया। किसानों ने गन्ना समिति के कर्मचारियों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। भाकियू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य समरसिंह चौधरी ने बताया कि गन्ना कैलेंडर 60-40 के अनुपात में बनाया जाता है, जिसमें पौधा व पैडी डालने में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न नहीं होती। आरोप है कि कर्मचारियों ने बिना सर्वे किए ही आफिस में बैठकर किसानों का गन्ना कैलेंडर बना दिया, जिससे किसानों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। भाकियू कार्यकर्ता लापरवाह कर्मचारियों पर कार्यवाही की मांग करते हुए जिला गन्ना अधिकारी को मौके पर बुलाने पर अड़ गए तथा देर शाम तक भी जिला गन्ना अधिकारी के नहीं आने पर नाराज हो गए तथा अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी दे दी। देर शाम जिला गन्ना अधिकारी आरडी द्विवेदी ने मौके पर पहुंचकर किसानों की समस्याओं का जल्द समाधान कराने का आश्वासन दिया। इस दौरान भाकियू कार्यकर्ताओं ने जिला गन्ना अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। समरसिंह चौधरी, राजेंद्र चौधरी, जमील मलिक, सन्नी चौधरी, अखलाक प्रधान, अवतार सिंह, लवकुश चौधरी, ग•ोसिंह, नाजिम, अनिल धामा, बाबी सहरावत व मोहम्मद तारिक आदि मौजूद रहे।

गुरुद्वारा चलाने को लेकर डीएम को ज्ञापन सौंपा

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। भोपा थाना क्षेत्र के रहकड़ा गांव में गुरुद्वारा चलाने को लेकर डीएम को ज्ञापन सौंपा।

कासमपुरा के कुछ ग्रामीण गुरुवार को डीएम कार्यालय पर पहुंचे और ज्ञापन देकर आरोप लगाया कि अजीत सिंह, बचन सिंह, सुरजीत कौर गुरुद्वारा को नहीं चलने दे रहे हैं और कब्जा करने की ताक में हैं। धार्मिक स्थल पर कब्जा करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। आरोप है कि गुरुद्वारा में आने वाले श्रद्धालुओं को उक्त लोग आतंकित भी करते हैं और प्रार्थना करने से रोकते हैं। ज्ञापन देने वालों में गुरनाम सिंह, विशाल, सोनू कुमार, बचित्तर सिंह, हरकेश सिंह व राजकुमार आदि शामिल रहे।

Edited By: Jagran