जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ कस्बे में पानी की किल्लत को देखते हुए नगर पंचायत ने पांच बोरिग कराने का काम शुरू कर दिया है। तीन बोरिग तो एक-दो दिन में चालू हो जाएंगे और बाकी भी अगले माह चलने की उम्मीद है। इससे कस्बे में पानी की किल्लत से निजात मिल जाएगी।

कस्बे में चल रही पानी की जबरदस्त किल्लत के चलते नगर पंचायत की देखरेख में पांच नये बोरिग करने का काम जोरों पर चल रहा है। बोरिग से निकलने वाले पानी को सीधे लाइन से जोड़ा जाएगा, जिससे पानी का बहाव तेज होगा और पानी भी अधिक समय तक लोगों को मिल सकेगा। वर्तमान में कई मोहल्लों में पानी की सप्लाई न के बराबर होने के कारण वहां पर पानी के टैंकर भेजे जा रहे हैं, जिससे लोगों को पानी की किल्लत से न जूझना पड़े। नगर पंचायत ईओ विनोद कुमार शुक्ला ने बताया कि तीन बोरिग तो एक-दो दिनों में चालू कर दिए जाएंगे, जबकि बाकी दो बोरिग को दिसंबर माह में शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी बोरिग चलने के बाद सालों तक लोगों को पानी की कमी नहीं होने पाएगी।

साहब! धोखा हुआ है, गाय नहीं दे रही 10 लीटर दूध

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ के भलेड़ी गांव निवासी सुनीता देवी ने कस्बा पुलिस चौकी पर इंचार्ज गजेंद्र सिंह को पत्र देकर बताया कि उसने गांव के ही एक व्यक्ति से 18 हजार रुपये में गाय खरीदी थी। गाय बेचने वाले ने दावा किया था कि गाय दस लीटर दूध देती है, लेकिन घर पर आने के बाद गाय केवल छह लीटर दूध ही दे रही है। उसने गाय बेचने वाले पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए गाय वापस कर पैसे दिलाने की गुहार लगाई है। कस्बा चौकी इंचार्ज ने जांच करने का आश्वासन दिया है।

Edited By: Jagran