जेएनएन, मुजफ्फरनगर। केंद्रीय राज्यमंत्री के गांव कुटबा में चुनाव के बाद मंगलवार को माहौल गर्म रहा। चुनाव को लेकर सुबह मारपीट के बाद दोपहर में पंचायत हुई, जिसमें ग्रामीणों ने मंत्री के स्वजन पर दबंगई करने के आरोप लगाए। ग्रामीणों ने पलायन की बात भी कही। मंत्री ने कहा कि पूरा गांव उनका परिवार है। सब यहीं मिलजुलकर रहेंगे। भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने भी ग्रामीणों से शांति बनाए रखने की अपील की।

कुटबा में पंचायत चुनाव को लेकर दो पक्षों में मारपीट के बाद माहौल खराब होता देख केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ग्रामीणों के बीच पहुंचे। उन्होंने मामले की जानकारी ली और दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया। मंत्री आरोप लगाने वाले पक्ष के घर गए। वहां ग्रामीणों ने कहा कि मंत्री जी, आपके परिवार के लोग दबंगई दिखा रहे हैं। मारपीट पर उतारू रहते हैं। आए दिन के फसाद से अच्छा है कि गांव छोड़कर चले जाएं। उन्होंने कहा कि दूसरे पक्ष के लोगों को भी समझाएंगे। वहीं दोपहर को मंदिर परिसर में पंचायत का ऐलान हुआ, जिसमें कुटबा-कुटबी के ग्रामीण एकत्र हुए। पंचायत में भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों से शांति की अपील की। साथ ही केंद्रीय राज्यमंत्री को पंचायत में बुलाने की बात कही। बाद में मंत्री भी पंचायत में शामिल हुए। भाकियू अध्यक्ष ने कहा कि गांव सभी का है। कोई छोड़कर नहीं जाएगा। बड़ों को युवाओं की गतिविधियों पर ध्यान देने की जरूरत है। चुनाव अब चला गया है। आपसी मतभेद भी भूलने होंगे।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा कि पूरा गांव उनका परिवार है। चुनाव में विवाद हो जाता है, लेकिन इसे आगे नहीं बढ़ाना है। माहौल कोई न बिगाड़े। गलती किसी से भी हुई हो, वह स्वयं इसके लिए माफी मांगते हैं। कहा कि वह कभी गलत का साथ नहीं देंगे। इसके बाद दोनों पक्षों में तय हुआ कि कानूनी कार्रवाई नहीं की जाएगी। यदि किसी बात पर विवाद होता है तो बुजुर्गो के साथ बैठकर निपटा लिया जाएगा।

डा. बालियान ने कोरोना को दी मात

मुजफ्फरनगर : केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान ने बताया कि उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। एक सप्ताह पूर्व वह पश्चिमी बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान संक्रमित हो गए थे। तभी से दिल्ली स्थित आवास पर आइसोलेट थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप