शुकतीर्थ (मुज़फ्फरनगर)। तीर्थ नगरी शुकतीर्थ के प्रति विदेशी जिज्ञासुओं का आकर्षण बढ़ता जा रहा है। रविवार सुबह यूक्रेन के 14 सदस्यीय दल ने तीर्थस्थल का दौरा किया। स्वामी ओमानंद महाराज ने विदेश से आए अतिथियों का स्वागत किया। घूमने के बाद यात्री उत्तराखंड के लिए निकल गए।
धार्मिक यात्रा पर आया दल
यूक्रेन से तीर्थ यात्रियों का दल रविवार सुबह शुकतीर्थ पहुंचा। दल में छह महिला व आठ पुरुष हैं। यह दल 40 दिन की धार्मिक यात्रा पर देर रात दिल्ली पहुंचा था। वहां से पूरी टीम सुबह शुकतीर्थ पहुंची। विक्टर के नेतृत्व में इस्कान से जुड़ा यह दल सबसे पहले शुकदेव आश्रम पहुंचा और वट वृक्ष की परिक्रमा की।
राजा परीक्षित के बारे में पढ़ा था
सदस्यों ने बताया कि उन्होंने इंटरनेट पर राजा परीक्षित के बारे में पढ़ा था। स्थानीय स्तर पर पुजारियों से राजा परीक्षित के बारे में जानकारी ली। यात्रियों ने हिंदू संस्कृति के बारे में जाना। पूजा अर्चना के बाद शुकदेव आश्रम में पीठाधीश्वर स्वामी ओमानंद जी ने यात्रियों का तिलक लगाकर तथा माला पहनाकर स्वागत किया। यात्रियों ने बताया कि वह यहां से ऋषिकेश, गंगोत्री घूमने के बाद वृंदावन जाएंगे। यात्रियों ने हिंदू संस्कृति की सराहना की, कहा कि दुनिया में कहीं शांति है तो वह भारत में है।

Posted By: Ashu Singh