मुजफ्फरनगर, जेएनएन। सीबीएसई 12वीं के परिणामों में अपने-अपने विषय में टाप करने वाले छात्र-छात्राओं ने करियर की और कदम बढ़ा दिए है। विज्ञान, कला और वाणिज्य वर्ग में जिले को टाप करने वाले छात्र-छात्राएं महानगरों में जाकर ही पढ़ाई कर सफलता की बुलंदियों तक पहुंचने की राह देखने लगे हैं। दैनिक जागरण से बातचीत में अपने विचारों को साझा किया।

चिकित्सक बन पिता का सपना पूरा करेंगी अनुष्का

जनपद को 99.4 प्रतिशत अंकों से टाप करने वाली छात्रा अनुष्का सिंह ने विज्ञान विषय से सफलता पाई है। अनुष्का सिंह ने कहा कि वह गांव जट नंगला के छोटे से किसान परिवार की बेटी हें। उनके पिता स्व. अनुज कुमार उन्हें चिकित्सक के रूप में देखना चाहते थे। अपनी शिक्षिका मां प्रियंका सिंह के सानिध्य में वह पढ़ाई कर मंजिल की तरफ बढ़ रही है। उनका कहना है कि वह चिकित्सक बनकर अपने पिता का सपना पूरा करेंगी, जिसके लिए नीट की तैयारी कर रही हैं। अनुष्का अपनी सफलता का श्रेय अपने स्वजनों और गुरूओं को देती है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर उड़ान भरेंगे स्पर्श

शारदेन स्कूल के टापर और जिले में विज्ञान वर्ग के टापर स्पर्श सिघल का कहना है कि उन्होंने 99 प्रतिशत अंक प्राप्त कर दिल्ली यूनिवर्सिटी में दाखिले के लिए अपनी जगह बनाई है। उनका कहना है कि उनके पिता एक कंपनी में प्रबंधक है। वह भी वाणिज्य वर्ग में ही पढ़ाई कर आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा अभी उनका लक्ष्य दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेना है। वह बीकाम आनर्स की पढ़ाई कर करियर की राह का आसान बनाएंगे।

वर्णिका त्यागी जज बनकर करेंगी सेवा

एसडी पब्लिक स्कूल से कला वर्ग में 96.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर कला वर्ग की टापर बनी वर्णिका त्यागी जज बनकर देश की सेवा करना चाहती है। उन्होंने कहा कि उनके पिता स्वास्थ्य विभाग में फार्मासिस्ट है। उनके पिता का उन्हें आगे बढ़ाने में बड़ा सहयोग रहता है। वर्णिका ने बताया कि वह न्यायधीश बनने के लिए अब ला की पढ़ाई करेंगी, जिसके बाद पीसीएसजे की परीक्षा के लिए तैयारी करेंगी। उन्होंने कहा कि उनके मार्गदर्शन और सफलता में माता-पिता का बड़ा योगदान रहता है।

Edited By: Jagran