जेएनएन, मुजफ्फरनगर। हंडिया मोहल्ला निवासी नशीले पदार्थो के तस्कर शादाब उर्फ भीम की संपत्ति पुलिस शीघ्र ही कुर्क करेगी। एसएसपी ने जिलाधिकारी को जांच रिपोर्ट भेजी थी, जिस पर डीएम ने संपत्ति कुर्क करने के आदेश जारी किए हैं।

हंडिया निवासी शादाब उर्फ भीम पुत्र अखलाख बेग के खिलाफ शहर कोतवाली व सिविल लाइन थानों में हत्या, हत्या के प्रयास, बलवा व एनडीपीएस एक्ट के कई मामले दर्ज हैं। शहर कोतवाली पुलिस ने शादाब के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की थी, जिसकी विवेचना सिविल लाइन थाना पुलिस कर रही थी। एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि शादाब ने अपराध करते हुए भाई असलम बेग, मां शमशीदा बेग, पत्नी सोनी बेग व बहन के नाम से अवैध रूप से संपत्ति खरीदी है। पुलिस ने उक्त संपत्ति का विवरण निकालकर रिपोर्ट तैयार की। आरोपित ने लगभग 85 लाख की संपत्ति अर्जित की है। एसएसपी ने संपत्ति कुर्क कराने की संस्तुति करते हुए जिलाधिकारी को पत्र लिख था।। एसएसपी की संस्तुति पर डीएम ने आरोपित की संपत्ति कुर्क करने के आदेश जारी किए हैं। पुलिस जल्द ही उसकी सम्पत्ति को कुर्क करेगी। सम्पत्ति में तीन दुकानें व एक मकान शामिल हैं।

बंजर जमीन से कब्जा हटवाया

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ के तालड़ा गांव के प्रधान प्रदीप पाल उर्फ मोनू ने बताया कि गांव की बंजर जमीन को एक व्यक्ति ने अपने खेत में मिला रखा था। इसकी शिकायत ग्रामीणों ने तहसील में की थी। गुरुवार सुबह कानूनगो अनुज कुमार व लेखपाल राकेश वर्मा ने जमीन की पैमाइश की। जमीन चिह्नित उस पर बोयी गई गन्ने की फसल ट्रैक्टर चलवा कर जुतवाया। जमीन मुक्त कर प्रधान के सुपुर्द कर दी गई। गांव प्रधान ने बताया कि गांव में किसी ने भी सरकारी जमीन पर कब्जा किया तो वह स्वत: ही मुक्त कर दे। अन्यथा तहसील से जमीन मुक्त कराई जाएगी।

Edited By: Jagran