पुरकाजी : बस्ती के बाहरी छोर पर निकले अजगर ने बकरी को जकड़ लिया। बकरी की जान बचाने के लिए लोगों ने अजगर पर लाठियां बरसा दी। अजगर और बकरी दोनों मर गए। सूचना के बाद भी घंटों तक वन विभाग की टीम मौके पर नहीं पहुंची।

सुवाहेड़ी गांव के मजरा सेठपुरा बस्ती में गुरुवार शाम खेत में प्रवीण की बकरियां चर रही थी। इसी बीच एक बकरी ने जोर से मिमयाना शुरू कर दिया। आसपास काम कर रहे लोगों ने वहां जाकर देखा तो बकरी को करीब दस फीट लंबे अजगर ने जकड़ रखा था। लोगों ने शोर मचाया और लाठी-डंडों से अजगर को पीटना शुरू कर दिया। बड़ी मुश्किल से अजगर ने बकरी को छोड़ा। बकरी की मौत हो चुकी थी। लाठियों की चोट से अजगर भी मर गया। अजगर निकलने से लोगों में दहशत व्याप्त है। ग्रामीणों ने वन विभाग को सूचना दी, लेकिन कोई नहीं आया। घंटों बीत जाने के बाद वन विभाग का संविदाकर्मी बिजली के लाइनमैन के साथ पहुंचा। दोनों मरे हुए अजगर को प्लास्टिक के कट्टे में भरकर ले गए। अजगर का वजन करीब डेढ़ कुंतल बताया जा रहा है।

दो माह पूर्व भी हुई थी घटना

सेठपुपा में दो माह पूर्व भी इसी तरह दूसरी दिशा में अजगर ने बकरी को पकड़ा था। तब भी लोगों ने बकरी को छुड़ाने के लिए अजगर को मार दिया था।

Posted By: Jagran