जानसठ: बुधवार को मोरना क्षेत्र के ग्रामीणों ने एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन कर गांव के कुछ लोगों पर पीएम आवास योजना के तहत बने मकान को तोड़ने का आरोप लगाया है। एसडीएम ने भोपा पुलिस को आरोपितों पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

मोरना क्षेत्र के कस्बा भोकरहेड़ी निवासी शीला, गीता, शकुंतला, ताराचंद रामकिशन, र¨वद्र, देशपाल, राजकुमार, अमरनाथ, नितिन तथा राजेंद्र आदि ने बुधवार को एसडीएम विजय कुमार के कार्यालय पर प्रदर्शन कर गांव के कुछ दबंगों के खिलाफ रोष जताया। ग्रामीणों का कहना था कि उन्हें पीएम आवास योजना के तहत मकान आवंटित हुए थे। मकानों से आवागमन करने के लिए वह सरकारी जमीन पर एक रास्ता बनवा रहे थे। आरोप है कि गांव के कुछ दबंग लोगों ने रास्ते का काम बंद करवा कर उनके मकानों में भी तोड़फोड़ की है। विरोध करने पर आरोपितों ने पीड़ितों के साथ मारपीट भी की है। ग्रामीणों का कहना था कि आरोपितों की दबंगई के आगे गांव का कोई व्यक्ति विरोध करने का साहस नहीं करता है। उन्होंने एसडीएम से उनके मकानों की मरम्मत कराने, रास्ता खुलवाने तथा आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसडीएम ने भोपा पुलिस को आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Posted By: Jagran