जेएनएन, मुजफ्फरनगर। शामली जिले के गांव कैड़ी निवासी किशोर की हत्या के मामले में कोर्ट ने आरोपित पिता-पुत्र को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। आरोपितों पर अर्थदंड भी लगाया है।

कैड़ी गांव निवासी कक्षा सात के छात्र कुलदीप की वर्ष 2014 में रंजिश के चलते हत्या कर दी गई थी। गांव के ही अरविद शर्मा और उसके बेटे जोनी उर्फ श्रीकांत के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपितों ने कुलदीप के सीने में चाकू मारकर हत्या की थी। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अशोक कुमार ने अरविद शर्मा व उसके पुत्र जॉनी उर्फ श्रीकांत को दोषी ठहराया। दोनों को उम्रकैद की सजा सुनाई। 50-50 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है। कई दारोगा इधर से उधर

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। एसएसपी अभिषेक यादव ने छपार थाने में तैनात दारोगा सचिन शर्मा को एसएसआइ शहर कोतवाली बनाया है। शहर कोतवाली के एसएसआइ राकेश शर्मा को बुढ़ाना कोतवाली, रामलीला टीला चौकी इंचार्ज ब्रह्मजीत तोमर को थाना मीरापुर, योगेंद्र सिंह को नई मंडी कोतवाली से सिविल लाइन थाना, अशोक कुमार को तितावी से थाना रामराज, शैलेंद्र सिंह को थाना भोपा से सिखेड़ा, तपन जयंत को भौराकलां से लालूखेड़ी चौकी प्रभारी, रवींद्र सिंह को चौकी प्रभारी बीआइटी बनाया है। चोरी से डस्ट ले जा रहे दो गिरफ्तार

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। छपार में रामपुर तिराहा चौकी प्रभारी विनोद राघव ने बताया कि बुधवार रात नेशनल हाईवे-58 स्थित सिसौना तिराहा पर बिना कागजात के डस्ट से भरे तीन ट्रकों को पकड़ लिया। उत्तराखंड के लक्सर से डस्ट मेरठ ले जा रहे थे। पुलिस ने आरोपित राशिद निवासी कस्बा मीरापुर व जाबिर निवासी गांव वेट थाना सिंभावली-हापुड को गिरफ्तार कर लिया, जबकि एक आरोपित भाग गया। पुलिस ने आरोपितों का चालान कर तीनों ट्रकों को सीज कर दिया। फरार वारंटी गिरफ्तार

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। छपार थाना क्षेत्र के मेदपुर गांव निवासी नैन कुमार के विरुद्ध 2012 से छेड़छाड़ व मारपीट का मामला न्यायालय में विचाराधीन है। न्यायालय में हाजिर न होने पर वारंट जारी हो गए। उपनिरीक्षक विनोद राघव ने बताया कि पुलिस ने बुधवार रात आरोपित को उसके घर से गिरफ्तार कर चालान कर दिया।

Edited By: Jagran