मुजफ्फरनगर : लंबे समय से इंतजार कर रहे तीन जिलों के लोगों के लिए राहत भरी खबर है। पानीपत-खटीमा राजमार्ग 3500 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाएगा। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इस महत्वपूर्ण राजमार्ग को मंजूरी दी है। इसके अलावा मेरठ-करनाल नेशनल हाईवे के सौंदर्यीकरण और रखरखाव पर 550 करोड़ रुपये खर्च होंगे। शहर में ¨रग रोड भी बनाई जाएगी, इससे शहर में जाम की समस्या से निजात मिलेगा। परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने परियोजना को हरी झंडी दे दी है।

बागपत और सहारनपुर में मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री गड़करी के कार्यक्रम हुए। उन्होंने कई महत्वपूर्ण राजमार्गों का शिलान्यास किया। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री एवं सांसद डॉ. संजीव बालियान कार्यक्रम में मौजूद रहे। बालियान ने बताया कि पानीपत-खटीमा राजमार्ग के निर्माण के लिए वह काफी दिनों से प्रयासरत थे। इस मार्ग को मंजूरी मिल गई है। केंद्रीय परिवहन मंत्री ने इसकी घोषणा कर दी है। उन्होंने बताया कि राजमार्ग संख्या 709 एडी के नाम से दर्ज किए मार्ग की कुल लंबाई 132 किमी है। निर्माण कार्य पर 3500 करोड़ की लागत आएगी। दिसंबर में भूमि पूजन किया जाएगा। निर्माण कार्य जुलाई, 2021 तक पूरा किया जाएगा। इसके निर्माण से मुजफ्फरनगर, शामली व बिजनौर जनपद समेत पानीपत के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। कारोबार में भी तेजी आएगी। डॉ. बालियान ने बताया कि मेरठ, बुढ़ाना, शामली व करनाल नेशनल हाईवे पर 550 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 85 किमी लंबे इस हाईवे का 35 किमी हिस्सा जनपद में है। 24 माह में अधूरा निर्माण कार्य समेत सौंदर्यीकरण का कार्य पूरा किया जाएगा। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण इस परियोजना को दिसंबर 2020 तक पूरा करेगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा बुढ़ाना मार्ग वाया निकट गांव पीनना होते हुए रामपुर तिराहा तक ¨रग रोड बनाई जाएगी। इस महत्वपूर्ण परियोजना पर कार्य चल रहा है। इससे शहर में लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी। ¨रग रोड से शहर का सौंदर्य बढ़ेगा। दूसरे जिलों और देहात से आने वाले वाहन शहर में प्रवेश किए बगैर सीधे नेशनल और स्टेट हाईवे पर जा सकेंगे।

Posted By: Jagran