जेएनएन, मुजफ्फरनगर। खतौली में महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए कराए जा रहे टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने पांच मोबाइल टीम तैयार की है। इनके माध्यम से शहर व गांव में टीकाकरण से छूटे महिला-पुरुष की तलाश की जा रही है। यह टीम घर-घर जाकर टीकाकरण की जानकारी जुटा रही है। जहां टीकाकरण से छूटे महिला या पुरुष मिल रहे हैं उन्हें तत्काल डोज लगाई जा रही है।

दीपावली पर्व के बाद टीकाकरण रफ्तार नहीं पकड़ रहा है। कोरोना की तीसरी लहर को स्वास्थ्य विभाग सतर्कता बरत रहा है। महामारी से दूर रहने के उपाय बताने के साथ बचाव के लिए टीकाकरण किया जा रहा है। खंड विकास क्षेत्र के कई गांवों में ऐसे लोगों को आंकड़ा जुटाया गया है, जो अभी तक एक भी डोज नहीं लगवा सके हैं। इनमें महिला वर्ग भी शामिल है। टीकाकरण से छूटे लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए कार्य किया जा रहा है। गालिबपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा प्रभारी डा. अवनीश कुमार ने बताया कि टीकाकरण से छूटे लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए पांच मोबाइल टीम बनाई गई है। जिन्हें गुरुवार को मंसूरपुर, रतनपुरी के अलावा खतौली क्षेत्र के अलग-अलग गांवों में भेज कर टीकाकरण की जिम्मेदारी दी गई है। गांव में कुछ लोग ऐसे निकल रहे हैं, जिन्हें अभी तक एक भी डोज नहीं लगी है। इन लोगों को प्राथमिकता के आधार पर मोबाइल टीम तत्काल व्यक्ति को वैक्सीन लगा रही है। कुछ स्थानों पर महिला वर्ग भी टीकाकरण से दूर मिला है, जिन्हें आशा, एएनएम के जरिए टीका लगाया जा रहा है।

Edited By: Jagran