मुजफ्फरनगर, जेएनएनए। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली में हुए उपद्रव में मारे गए बुढाना क्षेत्र के गांव इटावा निवासी और आईबी के सुरक्षा सहायक अंकित शर्मा को शिवचौक पर श्रद्धांजलि दी गई। राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल समेत लोगों ने पुष्‍प चढ़ाया और जयघोष भी लगाया।

स्वजन अस्थि कलश लेकर हरिद्वार जा रहे थे कि रास्‍ते मे ही शिवचौक पर लोगों ने इन्‍हे रोक लिया। शिवचौक पर पहुंचे राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल समेत बड़ी संख्या में गणमान्य लोगों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। मृतक की आत्मा की शांति को हाथ जोड़कर नमन किया गया। साथ ही भारत माता की जय, अंकित शर्मा अमर रहे का जयघोष हुआ यहां से स्वजन अस्थि कलश लेकर हरिद्वार के लिए रवाना हो गए। परिजनों ने अंकित शर्मा को शहीद का दर्जा देने की मांग की है।

दिल्‍ली हिंसा के दौरान आईबी अधिकारी अंकित शर्मा कुछ दिन पहले ही उपद्रवी के हमले के बीच गोली लगने से मर गए थे। जिसके बाद से ही आसपास के लोगों में आक्रोश का माहौल है। वे सरकार से उपद्रवियों के खिलाफ सख्‍त से सख्‍त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। साथ ही अंकित को शहीद का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं।  

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस